S M L

बीजेपी नेता ने विधानसभा में हंगामा किया तो मार्शलों ने किया बाहर

विजेंद्र गुप्ता ने सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार करने की भी मांग की

IANS | Published On: May 09, 2017 08:03 PM IST | Updated On: May 09, 2017 08:03 PM IST

बीजेपी नेता ने विधानसभा में हंगामा किया तो मार्शलों ने किया बाहर

दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता को मार्शलों ने मंगलवार को सदन से बाहर कर दिया. गुप्ता ने विधानसभा के एक दिवसीय विशेष सत्र के दौरान सत्ताधारी आप और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाए और हंगामा किया.

बीजेपी के विधायक गुप्ता ने दिल्ली के स्वास्थ्य और शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन की संलिप्तता वाले 1,000 करोड़ रुपए के भूमि घोटाले का आरोप लगाया, और इस पर बहस की मांग करते हुए एक स्थगन प्रस्ताव पेश किया. लेकिन विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने स्थगन प्रस्ताव की अनुमति नहीं दी.

गोयल द्वारा बार-बार अनुरोध करने और चेतावनी देने के बाद भी बीजेपी नेता ने हंगामा जारी रखा, जिसके बाद उनके आदेश पर विजेंद्र गुप्ता को सदन से बाहर कर दिया गया.

गोयल ने कहा कि उन्होंने मार्शलों से उन्हें बाहर निकालने का आदेश दिया. उन्होंने कहा, 'मैं आदेश देता हूं कि गुप्ता को दिन भर के लिए सदन से बाहर निकाला जाए.'

इसके बाद गुप्ता ने बातचीत में आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री केजरीवाल के साथ मिलीभगत कर सत्येंद्र जैन 1000 करोड़ रुपए से अधिक के भूमि घोटाले में शामिल हैं.

दिल्ली विधानसभा से बाहर होने के बाद धरने पर बैठे विजेंद्र गुप्ता (फोटो: पीटीआई)

दिल्ली विधानसभा से बाहर होने के बाद धरने पर बैठे विजेंद्र गुप्ता (फोटो: पीटीआई)

जैन ने पांच फर्जी कंपनियों से 200 बीघा जमीन खरीदी है

गुप्ता ने कहा, 'दिल्ली में जैन ने पांच फर्जी कंपनियों के जरिए लगभग 200 बीघा जमीन खरीदी है. जमीन 53 लाख रुपए प्रति एकड़ में खरीदी गई है, जबकि बाजार में इसकी कीमत 2-3 करोड़ रुपये प्रति एकड़ है.'

उन्होंने कहा, 'इस सौदे के लिए राज्य शहरी विकास मंत्रालय का इस्तेमाल किया गया, जिसका उद्देश्य 1,000 करोड़ रुपए से अधिक की कमाई करना था. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सिर्फ इसकी जानकारी ही नहीं है, बल्कि इसमें उनकी पूरी भागीदारी भी है.'

उन्होंने यह भी कहा कि बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा ने जैन द्वारा केजरीवाल को दो करोड़ रुपए सौंपने का जो आरोप लगाया है, वह इस कथित भूमि सौदे से संबंधित है.

विजेंद्र गुप्ता ने कहा, 'जैन को न केवल मंत्री पद से बर्खास्त किया जाना चाहिए, बल्कि उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए.'

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi