S M L

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: सुब्रमण्यम स्वामी का विकास बराला के खिलाफ पीआईएल

मामले में बीजेपी के नेता भी हरियाणा बीजेपी चीफ का इस्तीफा मांग रहे हैं

FP Staff Updated On: Aug 07, 2017 09:04 PM IST

0
चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: सुब्रमण्यम स्वामी का विकास बराला के खिलाफ पीआईएल

बदसलूकी और पीछा करने के मामले में आरोपी हरियाणा बीजेपी के अध्‍यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला के खिलाफ वरिष्‍ठ बीजेपी नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी जनहित याचिका दायर करेंगे.

स्‍वामी ने टि्वटर के जरिए बताया कि 'दो शराबी गुंडों' के एक आईएएस अधिकारी की बेटी के अपहरण के प्रयास मामले में वह और उनके साथी वकील एपी जग्‍गा चंडीगढ़ में जनहित याचिका दाखिल करेंगे.

बता दें कि बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे ने चार अगस्त की रात अपने एक साथी आशीष कुमार के साथ कथित तौर पर हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव वी. एस. कुंडू की बेटी वर्णिका कुंडू का कार में सात किलोमीटर तक पीछा किया.

वर्णिका चंडीगढ़ से सटे पंचकुला की ओर जा रही थीं, इस बीच सेक्टर सात से टाटा सफारी स्टॉर्म एसयूवी में सवार विकास और आशीष ने उनका पीछा करना शुरू किया. चंडीगढ़ पुलिस ने पांच अगस्त को हाउजिंग बोर्ड चौराहे से विकास और आशीष को गिरफ्तार कर लिया और उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया, हालांकि दोनों आरोपियों को उसी दिन जमानत मिल गई.

बीजेपी सांसद ने भी मांगा इस्तीफा

भाजपा इस मामले पर चारों ओर से घिरी हुई है. विपक्ष के साथ ही पार्टी के कई नेता भी सुभाष बराला का इस्‍तीफा मांग रहे हैं. कुरुक्षेत्र से भाजपा सांसद राजकुमार सैनी ने अपनी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.

उन्होंने कहा की इस मुद्दे से पार्टी की छवि खराब न हो इसलिए सुभाष बराला को नैतिकता के आधार पर अपने आप ही इस्तीफा देना चाहिए. हालांकि भाजपा ने इससे इनकार किया है. विपक्षी दल कांग्रेस ने भाजपा पर अपने नेता को बचाने का आरोप लगाया है.

इसके बाद भाजपा पर मामले को दबाने का आरोप लग रहा है. हरियाणा सरकार ने कहा कि मामले में कार्रवाई की जा रही है. किसी पर कोई दबाव नहीं डाला जा रहा है. चंडीगढ़ पुलिस ने बताया कि उन पर कोई राजनीतिक दबाव नहीं है. मामले की जांच हो रही है और रोज इसकी जानकारी दी जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi