S M L

बुद्धिजीवियों के दोहरे मापदंड के खिलाफ अभियान चलाएगी बीजेपी

बीजेपी और संघ के नेताओं का कहना है कि बुद्धिजीवी बशीरहाट मसले पर चुप क्यों हैं

Bhasha Updated On: Jul 11, 2017 05:40 PM IST

0
बुद्धिजीवियों के दोहरे मापदंड के खिलाफ अभियान चलाएगी बीजेपी

बीजेपी और संघ परिवार ने पश्चिम बंगाल के बुद्धिजीवी वर्ग के एक तबके के कथित दोहरे मापदंड के बारे में लोगों को जागरूक करने का फैसला किया है. इसके लिए उन्होंने उत्तरी 24-परगना जिले के बशीरहाट में हुए दंगों को लेकर उनकी चुप्पी का उदाहरण दिया है.

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव राहुल सिंहा ने एक उदाहरण देते हुए कहा कि योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने पर बंगाल के एक कवि ने इसकी निंदा करते हुए एक कविता लिखी थी लेकिन आज जब बहुसंख्यक समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है तो वह चुप हैं.

संघ परिवार भी देगा साथ 

बीजेपी के सूत्रों के मुताबिक पार्टी का राज्य नेतृत्व और संघ परिवार से संबद्ध लोग जागरूकता अभियान का संचालन करेंगे.

एक अन्य बीजेपी नेता ने इस बात की ओर इशारा किया कि अल्पसंख्यक समुदाय के साथ कुछ अप्रिय होने पर कुछ बुद्धिजीवी प्रखर तरीके से आवाज उठाते हैं लेकिन बहुसंख्यक समुदाय के खिलाफ कुछ होने पर वे चुप्पी साध लेते हैं.

आरएसएस के एक नेता ने ताज्जुब प्रकट किया, ‘(वर्ष 2015 में उत्तर प्रदेश में मोहम्मद अखलाक की पीट-पीटकर हत्या किये जाने के बाद) पुरस्कार लौटाने वाले लोग कहां है? बशीरहाट दंगों को लेकर वे शांत क्यों हैं?’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi