S M L

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने गायत्री प्रजापति की जमानत पर लगाई रोक

17 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने गायत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का आदेश दिया था

FP Staff | Published On: Apr 28, 2017 07:12 PM IST | Updated On: Apr 28, 2017 07:12 PM IST

0
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने गायत्री प्रजापति की जमानत पर लगाई रोक

नाबालिग से गैंगरेप मामले में फंसे समाजवादी पार्टी सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रजापति की जमानत पर इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने शुक्रवार को रोक लगा दी. इस मामले में अगली सुनवाई दो हफ्ते बाद होगी.

बता दें 25 अप्रैल को ही लखनऊ की पोक्सो कोर्ट ने गायत्री प्रजापति और दो अन्य आरोपियों विकास वर्मा और पिंटू सिंह को जमानत दे दी थी.

चित्रकूट की एक महिला ने आरोप लगाया है कि मंत्री ने सपा में उच्च पद दिलाने के नाम पर उससे पिछले दो सालों में कई बार रेप किया और उसकी नाबालिग लड़की के साथ छेड़छाड़ भी की. महिला का आरोप है कि पुलिस ने उसकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की.

17 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने एफआईआर दर्ज करने का दिया था आदेश

इलाहाबाद हाईकोर्ट से भी याचिका खारिज होने के बाद पीड़िता ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. जिसके बाद 17 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने गायत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का आदेश दिया था.

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से कहा था कि आरोपी प्रभावशाली है तो इसका मतलब यह नहीं है कि पुलिस एफआईआर भी दर्ज न करे. इस मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच की जाए और फाइनल रिपोर्ट दाखिल की जाए.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi