विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

कितना भी रोके बीजेपी, राज्यसभा चुनाव में मेरी जीत पक्की: अहमद पटेल

'दल-बदल के लिए जिस तरह से कांग्रेस विधायकों को निशाना बनाया गया है, हमारा लोकतंत्र एक ‘बनाना रिपब्लिक’ में तब्दील हो गया है'

Bhasha Updated On: Aug 07, 2017 09:54 PM IST

0
कितना भी रोके बीजेपी, राज्यसभा चुनाव में मेरी जीत पक्की: अहमद पटेल

गुजरात में राज्यसभा चुनाव से एक दिन पहले कांग्रेस उम्मीदवार अहमद पटेल ने कहा कि जीत के लिए उन्हें जरुरी विधायकों का समर्थन हासिल है, जिनमें एनसीपी और जेडीयू के विधायक भी शामिल हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव ने आरोप लगाया कि बीजेपी कांग्रेस विधायकों और उनके परिवारों को डरा-धमका रही है और प्रताड़ित कर रही है ताकि और भी विधायकों को तोड़ा जा सके. कांग्रेस के विधायकों को बीजेपी द्वारा अपने पाले में करने की कोशिश किए जाने के चलते 44 विधायकों को बेंगलुरू भेजने के लिए मजबूर होना पड़ा.

आणंद के बाहरी इलाके में स्थित निजानंद रिसार्ट में कांग्रेस के 44 विधायकों से मिलने के बाद पटेल संवाददाताओं से बात कर रहे थे. बेंगलुरू से लौटने के बाद उन्हें वहां रखा गया है. पार्टी के विधायक मंगलवार सुबह तक वहां रहेंगे.

यह पूछे जाने पर कि चुनाव जीतने के लिए 45 का जादुई आंकड़ा वह कैसे हासिल करेंगे, उन्होंने कहा, 'यह चुनाव किसी की प्रतिष्ठा को लेकर नहीं है. अपने विधायकों पर मेरा पूरा भरोसा है. कांग्रेस के 44 विधायकों के अलावा, एनसीपी के दो, जेडीयू के एक विधायक भी अपना वोट मुझे देंगे.'

पटेल ने रिसॉर्ट के बाहर कहा, 'अभी तक अपने पत्ते नहीं खोलने वाले कांग्रेस के सात विधायक भी मुझे वोट देंगे. यहां तक कि शंकर सिंह वाघेला ने घोषणा की है कि वह मुझे वोट देंगे.'

कांग्रेस विधायकों को बेंगलुरु जाने के लिए मजबूर करने को लेकर भी पटेल ने बीजेपी पर हमला किया. 'मुझे समझ में नहीं आ रहा कि बीजेपी ने अपना तीसरा उम्मीदवार उतारने का फैसला क्यों किया, जबकि उसके पास 16 विधायक कम हैं. दल-बदल के लिए जिस तरह से कांग्रेस विधायकों को निशाना बनाया गया है, हमारा लोकतंत्र एक ‘बनाना रिपब्लिक’ में तब्दील हो गया है. हम पर निगरानी रखी गई. यहां तक कि सरकार ने भी मेरी निगरानी की.'

उन्होंने कहा कि और अधिक विधायकों को अपने पाले में करने के लिए हमारे विधायकों और उनके परिवारों को डराया धमकाया गया और प्रताड़ित किया गया. यही कारण है कि हमारे विधायक एक सुरक्षित स्थान पर ले जाए गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi