S M L

अमानतुल्लाह ने कुमार विश्वास पर लगाया अनुशासन तोड़ने का आरोप

कुमार विश्वास पर सवाल उठाने के बाद अमानतुल्लाह को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था

FP Staff | Published On: May 03, 2017 08:43 PM IST | Updated On: May 03, 2017 08:43 PM IST

0
अमानतुल्लाह ने कुमार विश्वास पर लगाया अनुशासन तोड़ने का आरोप

कुमार विश्वास पर सवाल उठाने वाले विधायक ओखला से विधायक अमानतुल्लाह को पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया है. डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया ने ये जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि कुमार विश्वास को पार्टी ने राजस्थान का प्रभारी बनाने का फैसला लिया है. बैठक में पांच फैसले लिए गए हैं. वहीं पार्टी से बाहर होने पर अमानतुल्लाह ने विश्वास पर हमला बोला है.

अमानतुल्लाह ने कहा कि अनुशासनहीनता मैंने नहीं, बल्कि कुमार विश्वास ने की है. उन्होंने वीडियो जारी कर पार्टी का अनुशासन तोड़ा है. वे चुनाव में भी नहीं दिखे. अमानतुल्लाह ने कहा कि वे पार्टी के फैसले से दुखी हैं.

बता दें कि आम आदमी पार्टी की उच्च स्तरीय बैठक बुधवार को मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के घर हुई. इसमें केजरीवाल के साथ कुमार विश्वास, मनीष सिसौदिया और आशुतोष शामिल हुए. सूत्रों के मुताबिक कुमार विश्वास की नाराजगी पर पर खूब बात हुई.

kumarvishwas1

कुमार विश्वास ने क्या कहा

कुमार विश्वास ने कहा, पार्टी में कुछ दिनों से विचार विमर्श की एक प्रक्रिया चल रही है. ये किसी भी किस्म के वर्चस्व का संघर्ष नहीं है. उन्होंने कहा, निजिता के अहम को छोड़कर हम एक बड़े आन्दोलन के लिए साथ हैं.

बैठक के तीन बड़े फैसले

पंकज गुप्ता के नेतृत्व में तीन सदस्यीय कमिटी का गठन. इसमें आशुतोष भी रहेंगे.

कमिटी कुमार विश्वास पर आरोप लगाने वाले विधायक अमानतुल्लाह के मामले की जांच करेगी.

कुमार विश्वास को राजनस्थान में पार्टी प्रभारी बनाया गया है.

सूत्रों के मुताबिक मीटिंग में कुमार विश्वास ने केजरीवाल के सामने तीन बड़ी शर्तें रखी थी.

विश्वास की पहली शर्त थी कि भ्रष्टाचार पर कोई भी समझौता नहीं होना चाहिए.

दूसरी शर्त पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ लगातार संवाद और उनकी शिकायतें सुनने को लेकर थी.

तीसरी शर्त में विश्वास ने कहा है कि राष्ट्रवाद से जुड़े मुद्दों पर कोई भी समझौता न हो. इससे पहले उन्होंने

अमानतुल्लाह को पार्टी से बाहर करने की शर्त भी रखी थी.

अकेले निकले कुमार विश्वास

मीटिंग खत्म होने के बाद कुमार विश्वास अकेले घर से बाहर निकले. दूसरे नेता बाहर नहीं दिखे. कार्यकर्ता काफी खुश नजर आए. नारेबाज़ी भी की. कार्यकर्ताओं ने कहा, हम खुश हैं अमानत के बाहर जाने से पार्टी अब एक है.

मनीष ने क्या कहा ?

मनीष ने कहा, 'कुमार को लेकर अमानत ने जो बयान दिया उससे PAC ने नाराजगी जताई है. उन्हें सस्पेंड किया गया है. एक कमिटी इसकी जांच करेगी जिसमें आशुतोष, आतिशी और पंकज गुप्ता हैं.'

दो गुट में बंटे कार्यकर्ता

केजरीवाल के घर के बाहर जमा कार्यकर्ता भी दो गुट में नजर आ रहे हैं. कुछ कार्यकर्ताओं ने ऑफ रिकॉर्ड आरोप लगाया कि आशीष और बिभव की वजह से यह सब हो रहा है.

कुमार विश्वास ने भी मीटिंग में आरोप लगाया कि इन दो लोगों की वजह से कार्यकर्ता केजरीवाल से मिल नहीं पा रहा. उन्होंने कहा, पार्टी में कम्युनिकेशन गैप बहुत बड़ा हो गया है.

घर में बैठक, बाहर प्रदर्शन

केजरीवाल के घर में पीएसी की बैठक चल रही है और बाहर स्कूलों की शिकायत लेकर लोग प्रदर्शन भी कर रहे हैं. द्वारका के प्रेसिडियम स्कूल ने फीस बढ़ा दी है. फीस नहीं देने वाले करीब 250 बच्चों के नाम स्कूल ने काट दिए हैं. आज पैरंट्स इसकी शिकायत लेकर केजरीवाल के घर मिलने आये थे, उन्होंने कहा, टाइम देने के बावजूद मुलाकात नहीं हो पाई.

मंगलवार को रातभर जारी रही गहमा-गहमी

इससे पहले मंगलवार को देर रात तक गहमा-गहमी बनी रही. कुमार विश्वास रात करीब एक बजे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के घर से निकले. उनके साथ उनकी पत्नी भी थी. इसके बाद मनीष सिसोदिया और संजय सिंह वहां से निकले. हालांकि, इस दौरान किसी ने भी मीडिया से बात नहीं की.

कुमार विश्वास ने मंगलवार को कहा था कि पार्टी में गलत होने पर वह चुप नहीं बैठेंगे. इसके बाद मनीष सिसोदिया ने उन्हें नसीहत देते हुए कहा था कि पार्टी के लोग बाहर बयानबाजी से बचें.

इस घटना के बाद मामले ने पकड़ा तूल

आप विधायक अमानतुल्ला ने कुमार विश्वास पर आरोप लगाए थे कि वे भाजपा के इशारे पर काम कर रहे हैं. इसके बाद कुमार विश्वास के पक्ष में कुछ लोगों ने विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.

नाटकीय घटनाक्रम के तहत सोमवार देर रात विधायक ने पीएसी से इस्तीफा दे दिया. हालांकि, कुमार खेमा सिर्फ पीएसी से इस्तीफा दिए जाने से ही संतुष्ट नहीं है.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi