S M L

स्कूलों में योगी सरकार पढ़ाएगी दीनदयाल उपाध्याय का पाठ!

अगले एकेडमिक सेशन से 9वीं क्लास के सिलेबस में बीजेपी के विचारक दीनदयाल उपाध्याय का अध्याय भी जोड़ा जा सकता है

FP Staff Updated On: Sep 02, 2017 05:35 PM IST

0
स्कूलों में योगी सरकार पढ़ाएगी दीनदयाल उपाध्याय का पाठ!

योगी सरकार शिक्षा व्यवस्था में बड़ा बदलाव करने जा रही है. अगले एकेडमिक सेशन से 9वीं क्लास के सिलेबस में बीजेपी के विचारक दीनदयाल उपाध्याय का अध्याय भी जोड़ा जा सकता है.

रिपोर्ट के अनुसार, योगी सरकार दीनदयाल उपाध्याय का जीवन, कार्य और विचारधारा के बारे में पढ़ाएगी. सरकार इसे यूपी बोर्ड के सिलेबस में जोड़ने पर विचार कर रही है.

पिछले महीने दीनदयाल उपाध्याय सेवा प्रतिष्ठान के अध्यक्ष अरुण मिश्रा को लिखे पत्र में माध्यमिक शिक्षा परिषद बोर्ड के सचिव ने 'एकात्म मानववाद' पर सामग्री मांगी थी. मिश्रा ने कहा, 'मैंने एकात्म मानववाद पर सामग्री और दीनदयाल जी की जीवनी माध्यम शिक्षा परिषद को भेज दी है.'

मिश्रा बीजेपी के प्रकाशन विभाग में जनरल सेक्रेटरी रह चुके हैं. शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार स्कूली किताब में शामिल करने के लिए सामग्री के अंतिम चयन के लिए विभाग के अधिकारियों और विशेषज्ञों की एक समिति बनाई गई है. राज्य सरकार की अनुमति मिलते ही इसे सिलेबस में जोड़ दिया जाएगा.

हिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए यूपी बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया 'इस मुद्दे पर विचार करने के लिए गठित समिति के सदस्यों द्वारा चर्चा आयोजित की गई थी.' आगे पूछ जाने पर उन्होंने कहा 'मैं सिर्फ इतना कह सकती हूं कि प्रस्ताव विचारधीन है.'

बीजेपी और यूपी सरकार दीनदयाल उपाध्याय का जन्मशातब्दी वर्ष मना रही है. उपाध्याय की विचारधारा लोगों तक पहुंचाने के लिए बीजेपी विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित कर रही है. अभी हाल में केंद्र सरकार ने योगी सरकार के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी थी. जिसमें उसने मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम दीनदयाल के नाम पर रखने की मांग की थी. दीनदयाल 1968 में स्टेशन में मृत पाए गए थे. तब उनकी उम्र मात्र 51 साल थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi