S M L

तीन तलाक से बचने के लिए हनुमान की शरण में मुस्लिम महिलाएं

तीन तलाक से मुक्ति के लिए मुस्लिम महिलाएं कर रहीं हैं हनुमान चालीसा का पाठ

FP Staff | Published On: May 10, 2017 09:34 PM IST | Updated On: May 10, 2017 09:34 PM IST

0
तीन तलाक से बचने के लिए हनुमान की शरण में मुस्लिम महिलाएं

सुप्रीम कोर्ट के संविधान पीठ में गुरुवार यानी 11 मई को तीन तलाक मामले की लगातार सुनवाई होने जा रही है. फैसला मुस्लिम महिलाओं के पक्ष में आए और तीन तलाक, हलाला जैसी प्रथा खत्म हो इसके लिए वाराणसी में मुस्लिम महिलाएं तरह-तरह के उपाय कर रही है.

इसी क्रम में काशी में मुस्लिम महिलाओं ने हनुमान चालीसा के सौ पाठ पूरे करके बजरंग बली से फैसला उनके पक्ष में आने की प्रार्थना की.

m1

बनारस के पातालपुरी मठ में बुधवार को मुस्लिम महिलाओं ने हनुमान चालीसा का पाठ किया. दरअसल 11 मई को सुप्रीम कोर्ट के संविधान पीठ में तीन तलाक के मामले को लेकर सुनवाई होनी है.

तीन तलाक के देश से मोक्ष के लिए ये मुस्लिम महिलाएं संकटमोचन हनुमान जी से प्रार्थना कर रही हैं कि फैसला उनके पक्ष में आए.

बिना किसी कारण देते हैं तलाक

नरहरपुरा स्थित पातालपुरी मठ में सुबह दस बजे से ये महिलाएं हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया. ये कार्यक्रम मुसलिम महिला फाउंडेशन द्वारा आयोजित किया गया है. लगातार बिना रुके हनुमान चालीसा का सौ पाठ पूरा करने वाली इन महिलाओं की उम्मीद अब सुप्रीम कोर्ट पर टिकी है.

m3

हनुमान चालीसा का पाठ करने वाली इन महिलाओं में नजमा भी है जिन्हें 20 दिन पहले ही उनके शौहर ने तलाक दिया है. उसका कहना है कि बिना किसी सूचना और ठोस कारण के उसके शौहर ने उसे तीन तलाक बोल दिया.

सिर्फ तीन लफ्ज ने उसकी जिंदगी तबाह कर दी है. अब वो भी हनुमान जी की अराधना करके इस देश से मुक्ति चाह रही हैं.

न्यूज़ 18 साभार

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi