S M L

आजम खान के उर्दू गेट पर बुलडोजर चलाने को तैयार योगी सरकार

योगी सरकार ने उर्दू गेट के निर्माण को अवैध करार दे दिया था अब राज्य सरकार ने इस गेट को ढहाने का फैसला कर लिया है.

FP Politics Updated On: Oct 04, 2017 10:49 AM IST

0
आजम खान के उर्दू गेट पर बुलडोजर चलाने को तैयार योगी सरकार

उत्तर प्रदेश सरकार अपनी पूर्व की समाजवादी सरकार की ओर से बनाए गए साइकिल ट्रैक के बाद उर्दू गेट को भी ढहाने के मूड में है.

आजम खान के गृहनगर रामपुर में बनी जौहर अली यूनिवर्सिटी का उर्दू गेट आजम खान को काफी पसंद है. लेकिन योगी सरकार ने इसके निर्माण को अवैध करार दे दिया है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट की मानें तो, अब राज्य सरकार ने इस गेट को ढहाने का फैसला कर लिया है.

योगी सरकार ने इस गेट को गैरकानूनी और मानदंडों का उल्लंघन बताया गया है. एसपी के समय इस गेट को बनवाने के लिए 40 लाख रुपए का खर्चा किया गया था. यह गेट रामपुर जिले को उत्तराखंड़ से जोड़ने वाले रोड़ पर भारी वाहनों के लिए रुकावट पैदा करता है.

नहीं लिया था एनओसी

बता दें कि इस साल की शुरुआत में ही जिला मजिस्ट्रेट ने इसके निर्माण के जांच के आदेश दिए थे. शिकायत मिली थी कि ये गेट छोटा होने की वजह से बड़ी गाड़ियां यहां से पास नहीं हो पाती. साथ ही सरकार ने ये गेट बनाने से पहले पीडब्लूडी से एनओसी भी नहीं लिया था, ऐसे में ये गेट एक अतिक्रमण है.

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में बीजेपी की सरकार बनने के बाद आजम खान के कट्टर प्रतिद्वंदी पूर्व विधायक नवाब काजिम अली खान, बीजेपी नेता आकाश कुमार सक्सेना और कांग्रेस के नेता फैजल खान लाला इस गेट के खिलाफ तीन शिकायत दर्ज करा चुके हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में पीडब्लूडी के अधिशासी अभियंता संजय कुमार श्रीवास्तव ने कहा, 'उर्दू गेट को लेकर शासन ने कार्रवाई के आदेश दिए हैं. इसके सभी पहलुओं को देखा जा रहा है. गेट के निर्माण में नियमों की अनदेखी तो की ही गई है. जल्द ही शासन के निर्देशों के अनुरूप कार्रवाई की जाएगी.'

आजम खान का अलग ही स्टैंड

लेकिन इस मुद्दे पर आजम खान ने अलग ही स्टैंड लिया है. उन्होंने यूपी सरकार की टूरिज्म बुकलेट से ताजमहल को गायब करने को लेकर उन्होंने सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, 'एक जमाने में बात चली थी कि ताज महल को गिराना चाहिए. योगीजी इस तरह के निर्णय लेंगे तो हमारा सहयोग रहेगा. ताजमहल, कुतुबमीनार, लालकिला और सांसद गुलामी की निशानी हैं. ये अच्छी पहल हैं.'

उन्होंने तंज कसते हुए कहा, 'सीएम योगी जब भी ताजमहल गिराने जाएं, जानकारी जरूर दें, मैं भी उनके साथ चलूंगा.' आजम यहीं नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा, 'वर्तमान सरकार बहुत धार्मिक है. सीएम को गोरखनाथ से ही सरकार चलानी चाहिए. वहीं विधानसभा लगानी चाहिए, मैं भी आऊंगा.'

आजम खान ने कहा, 'हम दुनिया में रोल मॉडल बन रहे हैं. आज की सरकार सत्ता में बने रहने के लिए कुछ भी कर रही है, और यही रास्ता सबको दिखा रही है.'

(फोटो: जौहर अली यूनिवर्सिटी का गेट प्रतीक के रूप में)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi