S M L

गायत्री प्रजापति का अवैध आशियाना दो दिन में गिरा दिया जाए: हाई कोर्ट

हाई कोर्ट ने उन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है जिन लोगों ने प्रजापति को गैरकानूनी निर्माण की इजाजत दी

FP Staff | Published On: Jun 16, 2017 07:43 PM IST | Updated On: Jun 16, 2017 07:47 PM IST

0
गायत्री प्रजापति का अवैध आशियाना दो दिन में गिरा दिया जाए: हाई कोर्ट

उत्तर प्रदेश के पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अवैध आशियाने को गिरा देने के आदेश दिए है.

कोर्ट ने गुरुवार को गायत्री को आदेश दिए कि दो दिन में इस अवैध निर्माण को गिरा दिया जाए और यूपी सरकार से इस मामले से जुड़ी जानकारी की रिपोर्ट 19 जून तक पेश करने को कहा है.

इस मामले में लखनऊ बेंच ने एलडीए से कहा कि वह उन दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करें जिन्होंने रूचि खंड इलाके में प्रजापति को गैरकानूनी निर्माण की इजाजत दी.

गायत्री का लखनऊ के सालेह नगर में अवैध आशियाना है, जिसे 23 मई को ही एलडीए के ज्यूडिशियल अथॉरिटी ने तोड़ देने का आदेश दिया था, लेकिन जब गायत्री प्रजापति के बेटे अनुराग ने कमिश्नर से अपील की, तो कोई सुझाव नहीं मिला, फिर उन्होंने हाई कोर्ट में जाकर अपील की.

अनुराग के लिए यह आदेश एक झटके के तौर पर आया है क्योंकि इससे पहले उन्होंने अवैध निर्माण को ढहाने के अदालती आदेश को चुनौती देते हुए याचिका इस उम्मीद के साथ दायर की थी की उनको राहत मिलेगी, लेकिन कोर्ट ने आशियाने को गिरा देने के निर्देश दे दिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi