S M L

इस महीने से कॉल ड्रॉप की जांच शुरू करेगा ट्राई

सेवा गुणवत्ता और कॉल ड्राप मामलों की स्वतंत्र तौर पर जांच की शुरुआत पांच महीने के बाद होने जा रही है

Bhasha | Published On: May 08, 2017 09:19 PM IST | Updated On: May 08, 2017 09:19 PM IST

इस महीने से कॉल ड्रॉप की जांच शुरू करेगा ट्राई

ऐसा कई बार हुआ होगा जब आप मोबाइल पर किसी से बात कर रहे हों और अचानक आपका कॉल कट जाए. टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने कॉल ड्रॉप की समस्या से छुटकारा दिलाने की पहल की है.

ट्राई इस महीने से टेलीकॉम ऑपरेटरों की सेवा गुणवत्ता और कॉल ड्राप मामलों की स्वतंत्र तौर पर जांच की शुरुआत कर सकता है. यह काम पांच महीने के बाद होने जा रहा है.

ट्राई के अध्यक्ष आर एस शर्मा ने सोमवार को कहा ‘स्वतंत्र रूप से परीक्षण का काम जल्द शुरू होने जा रहा है. वास्तव में इसमें कुछ अंतर आ गया था जिसे दूर कर लिया गया है. संभवत: वह इस महीने से इसकी शुरुआत कर लेंगे.’

mobile tower

मोबाइल सर्विस देने वाली सभी टेलीकॉम कंपनियों में कॉल ड्रॉप की समस्या आम है

स्वतंत्र रूप से परीक्षण का काम जल्द शुरु होगा 

शर्मा ने कहा कि यह स्वतंत्र रूप से किया जाना वाले परीक्षण ऑपरेटरों की सहायता से होने वाले परीक्षण से अलग होता है. उन्होंने कहा, ‘हम 11-12 शहरों में परीक्षण की शुरुआत कर रहे हैं. हम इसे और अधिक शहरों में करेंगे. यह कंपनियों की सहायता से होने वाले परीक्षण से अलग होगा.’

टेलीकॉम कंपनियां जहां एक तरफ अपनी पर्फामेंस रिपोर्ट को नियमित रूप से ट्राई को सौंपतीं हैं. वहीं ट्राई भी स्वतंत्र एजेंसियों के जरिये सेवा गुणवत्ता का आकलन और उसका ऑडिट भी करता है.

एजेंसियों ने टेलीकॉम आपरेटरों के कामकाज का आकलन और ऑडिट करने के लिये देशभर में अलग-अलग शहरों में नमूने के तौर पर ‘परीक्षण की शुरुआत’ भी की है.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi