S M L

रोहिंग्या मुस्लिमों पर सख्त बीएसएफ, बॉर्डर पर बढ़ाई निगरानी

बीएसएफ ने पश्चिम बंगाल से लगती हुई भारत-बांग्लादेश सीमा पर देश में रोहिंग्या मुस्लिमों के अवैध प्रवेश को रोकने के लिए ‘संवेदनशील’ स्थानों पर चौकसी बढ़ा दी है

Bhasha Updated On: Oct 05, 2017 02:40 PM IST

0
रोहिंग्या मुस्लिमों पर सख्त बीएसएफ, बॉर्डर पर बढ़ाई निगरानी

बीएसएफ ने पश्चिम बंगाल से लगती हुई भारत-बांग्लादेश सीमा पर देश में रोहिंग्या मुस्लिमों के अवैध प्रवेश को रोकने के लिए ‘संवेदनशील’ स्थानों पर चौकसी बढ़ा दी है.

बीएसएफ के महानिरीक्षक पीएसआर अंजनेयुलु ने  बताया, 'पहले हमने 22 संवदेनशील स्थानों की पहचान की थी लेकिन अब यह संख्या बढ़कर 50 हो गई है. ये स्थान संवेदनशील है, जहां से बांग्लादेशी और रोहिंग्या दोनों ही सीमा पार करके भारत में आ सकते हैं. हमने अपनी चौकसी बढ़ा दी है.' संवेदनशील इलाकों में पेत्रापोल, जयंतीपुर, हरिदासपुर, गोपालपारा और तेतुलबेराई भी शामिल है.

दक्षिणी बंगाल फ्रंटियर के बीएसएफ अधिकारियों के अनुसार पिछले कुछ सालों में 175 रोहिंग्या को पकड़ा गया था, जिनमें से सात को साल 2017 में पकड़ा गया है.

रोहिंग्या की पहचान करने और उनके स्थान का पता रखने के लिए बीएसएफ अपने स्थानीय सूत्रों को बढ़ा रही है और विभिन्न केंद्रीय एजेंसियों के साथ भी काम कर रही है.

भारत-बांग्लादेश की कुल 4,096 किलोमीटर लंबी सीमा में से 2,216 किलोमीटर सीमा पश्चिम बंगाल में है.

रोहिंग्या शरणार्थियों को केंद्र सरकार ने 18 सितंबर को हाईकोर्ट में अवैध प्रवासी बताते हुए कहा था कि इनका देश में रहना राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi