विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

'पीरियड्स क्या कोई लग्जरी हैं, जो टैक्‍स भरना पड़ता है'

शी सेज नाम के एक ग्रुप ने ट्विटर पर एक कैंपेन चलाया है यह कैंपेन सेनेटरी नैपकिन पर लगे टैक्स को हटवाने के लिए है

Bhasha Updated On: Apr 20, 2017 05:48 PM IST

0
'पीरियड्स क्या कोई लग्जरी हैं, जो टैक्‍स भरना पड़ता है'

‘शी सेज’ (she says) नाम के एक ग्रुप ने ट्विटर पर #LahuKaLagaan नाम का एक कैंपेन चलाया है. यह कैंपेन सेनेटरी नैपकिन पर लगे टैक्स को हटवाने के लिए है.

हैशटैग्स में वित्त मंत्री को किया जा रहा है टैग

ट्विटर पर बहुत सारी लड़कियां आगे आ रही हैं और इस कैंपेन को सपोर्ट कर रही हैं. हैशटैग्स में वित्त मंत्री अरुण जेटली को टैग करके अपील की जा रही है कि सेनेटरी नैपकिन्स पर लगे टैक्स को हटा दिया जाए.

ये भी पढ़े- 'हाफ' से बहुत बेटर हैं महिलाएं: नहीं मानते तो देखिए ये विज्ञापन

गर्लियापा ने ‘शी सेज’ के साथ मिलकर ये वीडियो बनाया है, जो ट्विटर पर खूब चल रहा है. अदिति राव हैदरी ने अपने ट्वीट में कहा है - सैनिटरी नैपकिन लग्जरी नहीं जरूरत हैं. इन्हें इतना सस्ता रखना चाहिए कि उन्हें ज्यादा से ज्यादा महिलाएं खरीद सकें.

सरकार को करना चाहिए विचार

वीडियो में हल्की-फुल्‍की बातें ही कही गई हैं लेकिन औरतों की सेहत के हिसाब से देखा जाए तो यह काफी गंभीर बातें हैं, जिन पर सरकार को विचार करना चाहिए.

ये भी पढ़े- आईआईटी दिल्ली में फरमान, समारोह में 'डीसेंट' कपड़ों में आएं लड़कियां

भारत में लगभग पांच में से एक ही औरत पैड खरीद पाती है क्योंकि न तो उसके पास ठीक-ठीक जानकारी है और न ही खरीदने के लिए पैसे. इस कैंपेन का साथ देने मशहूर एक्टर मल्लिका दुआ और आर. जे. आभा भी सामने आईं हैं. दोनों ने सोशल मीडिया पर इस कैंपेन को लेकरअपने वीडियो अपलोड किए हैं.

(साभार न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi