S M L

गोरक्षकों पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, कहा- हिंसा बर्दाश्त नहीं

कोर्ट ने कहा, देश में गोरक्षा के नाम पर हिंसा को रोकने के लिए जिलों में वरिष्ठ पुलिसकर्मियों को नोडल अधिकारियों के तौर पर नियुक्त किया जाए

FP Staff Updated On: Sep 06, 2017 12:55 PM IST

0
गोरक्षकों पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, कहा- हिंसा बर्दाश्त नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने गोरक्षकों को लेकर सख्त रुख अपनाया है. कोर्ट ने साफ कर दिया है कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा बिलकुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी. सर्वोच्च न्यायालय ने भीड़ की हिंसा पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं. कोर्ट ने कहा है कि सभी राज्य भीड़ की हिंसा पर रोक लगाएं और टास्क फोर्स का गठन करें. राज्यों को सख्त निर्देश देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हिंसा रोकने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की नियुक्त की जाए. हर जिले में एक पुलिस अफसर तैनात रहे.

कोर्ट ने कहा, देश में गोरक्षा के नाम पर हिंसा को रोकने के लिए जिलों में वरिष्ठ पुलिसकर्मियों को नोडल अधिकारियों के तौर पर नियुक्त किया जाए. साथ ही कोर्ट ने हर एक राज्य के डीजीपी और मुख्य सचिव से हलफनामा देने को भी कहा है. राज्य के मुख्य सचिवों से कहा कि वो गोरक्षा के नाम पर होने वाली हिंसा को काबू में करने के लिए उठाए गए कदमों की विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करें.

इसके अलावा कोर्ट ने पूछा है कि डीजीपी बताएं इसे खत्म करने के लिए क्या किया जाए. कोर्ट ने केंद्र से जवाब मांगा है कि गोरक्षा के नाम पर होने वाली हिंसा को रोकने के लिए कदम उठाने का निर्देश राज्यों को देने की उसकी संवैधानिक जिम्मेदारी है या नहीं?

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi