S M L

गोरखा आंदोलन: दार्जीलिंग छोड़ सिक्किम पहुंच रहे सैलानी, पर्यटन उद्योग की चांदी

दार्जीलिंग घूमने की चाहत रखने वाले देशी-विदेशी पर्यटक सिक्किम का रुख कर रहे हैं

Bhasha | Published On: Jun 20, 2017 04:28 PM IST | Updated On: Jun 20, 2017 04:28 PM IST

गोरखा आंदोलन: दार्जीलिंग छोड़ सिक्किम पहुंच रहे सैलानी, पर्यटन उद्योग की चांदी

पर्यटन के लिहाज से सबसे अधिक कमाई वाले इस सीजन में दार्जीलिंग में अशांति का लाभ सिक्किम को मिल रहा है. गोरखा जनमुक्ति मोर्चा आंदोलन के कारण पर्यटक दार्जीलिंग की बजाय यहां का रुख कर रहे हैं.

सिक्किम पर्यटन सचिव सी जांगपो ने कहा, 'दार्जीलिंग में तनाव के कारण यहां पर्यटन उद्योग में अचानक तेजी आ गई है. दार्जीलिंग में जीजेएम आंदोलन के कारण वहां जाने की योजना बनाने वाले कई घरेलू एवं विदेशी पर्यटकों ने अपनी बुकिंग रद्द करा दी हैं. अब ज्यादातर पर्यटक सिक्किम जा रहे हैं.'

गंगटोक में कई दिनों के लिए बुकिंग फुल

जांगपो ने कहा, 'गंगटोक में सैलानी बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं. अगले कई दिनों के लिए वहां बुकिंग पूरी हो चुकी हैं. सिक्किम पर्यटन सचिव ने कहा कि सिक्किम घूमने आए लगभग सभी पर्यटक या तो इसके बाद दार्जीलिंग जाने वाले थे या यहां आने से पहले वे दार्जीलिंग गए थे.'

ट्रैवल ऑपरेटरों को इस बात की चिंता है कि इतनी अधिक संख्या में पर्यटकों का प्रबंध करना मुश्किल है. ऐसी ही चिंता पर्यटन सचिव ने भी जाहिर की.

जांगपो ने कहा, 'हमने ट्रैवल ऑपरेटरों और होटलों से क्वालिटी से समझौता किए बिना अधिक से अधिक संख्या में पर्यटकों को सेवाएं देने को कहा है क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार की गड़बड़ी से पर्यटक उद्योग की बदनामी हो सकती है.'

भारी भीड़ के चलते कई पर्यटक लौटे

कोलकाता के एक पर्यटक शांतनु बोस ने कहा, 'हम छुट्टियां मनाने दार्जीलिंग गए थे लेकिन तभी यह सब (आंदोलन) हो गया. हमारे ट्रैवल एजेंट ने सिक्किम में ऑपरेटरों से तत्काल संपर्क किया. हमारी किस्मत अच्छी थी कि हमें बुकिंग भी मिल गई.' हालांकि कई पर्यटकों को बुकिंग नहीं मिल पाने के कारण दार्जीलिंग से ही लौटना पड़ा.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi