विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

तीन तलाक को बैन करे सरकार, गोहत्या हराम: शिया पर्सनल लॉ बोर्ड

तलाक को लेकर ऐसा सख्त कानून बने जिससे मुस्लिम महिलाओं का जीवन खराब न हो

FP Staff Updated On: Apr 05, 2017 11:20 PM IST

0
तीन तलाक को बैन करे सरकार, गोहत्या हराम: शिया पर्सनल लॉ बोर्ड

तीन तलाक, गोहत्या और राम मंदिर का मुद्दा अभी पूरे देश में गरमाया हुआ है. तीन तलाक का मुद्दा अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और कोर्ट सभी पक्षों का राय ले रही है.

इन्हीं मुद्दों पर बुधवार को ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड की कार्यकारिणी मीटिंग हुई. इस मीटिंग में तीन तलाक प्रथा का जमकर विरोध हुआ.

मीटिंग में शामिल बोर्ड के पदाधिकारियों और सदस्यों ने मांग की कि तीन तलाक की कुप्रथा को खत्म करने के लिए केंद्र सरकार सती प्रथा जैसा सख्त कानून बनाए.

मीटिंग में लिए गए फैसलों की जानकारी ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने दी. उन्होंने यह भी बताया कि मीटिंग में फैसला किया गया कि भारत में गोमांस खाना और गोहत्या हराम है.

शिया पर्सनल लॉ बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में रखेगा अपना पक्ष 

बोर्ड प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने बताया कि इस्लाम औरतों को मर्द के बराबरी का दर्जा देता है. उन्होंने कहा कि हम केंद्र सरकार से मांग करने जा रहे हैं कि तलाक को लेकर ऐसा सख्त कानून बने जिससे मुस्लिम महिलाओं का जीवन खराब न हो.

मौलाना अब्बास ने कहा कि उन्होंने तीन तलाक के मुद्दे के सर्वमान्य हल के लिए ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सामने माडर्न निकाह नामा पेश किया.

उन्होंने यह भी कहा कि इस्लाम की शुरुआत में तीन तलाक नहीं था, फिर कहां से आ गया तीन तलाक. उन्होंने यह भी बताया कि शिया पर्सनल लॉ बोर्ड तीन तलाक के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखेगा.

अयोध्या विवाद में सुप्रीम कोर्ट करे मध्यस्थता

मीटिंग में एक स्वर से कहा गया कि बोर्ड मानता है कि अयोध्या विवाद को हल दोनों समुदाय की आपसी बातचीत से ही हल होगा.

मीटिंग में कहा गया कि जब तक सियासत होती रहेगी, मंदिर और मस्जिद के नाम पर बेगुनाहों का खून बहता रहेगा.

मीटिंग में मौलाना जहीर अब्बास ने हम चाहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट खुद मध्यस्थता करके दोनों पक्षों को आमने- सामने बैठाए.

शिया पर्सलन लॉ बोर्ड की मीटिंग में योगी सरकार के स्लाटर हाउसों को लेकर किए गए फैसले का स्वागत किया गया.

मौलाना यासूब अब्बास ने बताया कि योगी सरकार ने अवैध स्लाटर हाउसों पर वैन लगाया है, लेकिन वैध स्लाटर हाउसों से जुड़े लोग अवैध स्लाटर हाउस चलाने वालों के पक्ष में खड़े हो रहे हैं, यह गलत है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi