विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

प्रतिनिधि चुनने से ही जनता का विश्वास नहीं जीता जा सकता: बीजेपी

शशिकला के पास वह अनुकूल परिस्थिति नहीं है जो कि जयललिता के पास थी

Bhasha Updated On: Feb 14, 2017 06:11 PM IST

0
प्रतिनिधि चुनने से ही जनता का विश्वास नहीं जीता जा सकता: बीजेपी

आय से अधिक संपत्ति मामले में हाई कोर्ट के दोषी ठहराए जाने के बाद तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी पंसद के व्यक्ति का चुनाव करने के लिए अन्नाद्रमुक महासचिव वी के शशिकला पर निशाना साधते हुए बीजेपी ने कहा कि अपना प्रतिनिधि चुनने मात्र से ही जनता का विश्वास नहीं जीता जा सकता.

साथ ही उन्होंने राज्यपाल से संख्या और विश्वसनीयता के आधार पर ही कोई निर्णय लेने का आग्रह किया है.

भाजपा के महासचिव एवं तमिलनाडु प्रभारी पी मुरलीधर राव ने कहा कि शीर्ष न्यायालय की ओर से शशिकला के दोष बरकरार रखने के बाद मुख्यमंत्री बनने के उनके सपने को झटका लगा है. शशिकला को अन्नद्रमुक प्रमुख बनने का लाभ हो सकता है लेकिन दिवंगत जयललिता की तरह उन्हें जनता का समर्थन नहीं है.

वक्त शशिकला के साथ नहीं !

उन्होंने कहा, ‘शशिकला के पास पार्टी का प्रमुख पद होने का फायदा है लेकिन उनके पास वह अनुकूल परिस्थिति नहीं है जो कि जयललिता के पास थी.

जयललिता के पास जनता का समर्थन था और यह एक बहुत महत्वपूर्ण कारक है. एक प्रतिनिधि नियुक्त करके आप कभी जनता का विश्वास हासिल नहीं कर सकते.’

राव ने पीटीआई भाषा से बातचीत में कहा कि राज्यपाल सी विद्यासागर राव को उच्चतम न्यायालय के फैसले के आधार पर ही कोई निर्णय लेना होगा.

अब यह एक नया कारक है. वह सिर्फ संख्या के साथ नहीं जा सकते. उन्हें संख्या और विश्वसनीयता दोनों को ही देखना होगा.

गौरतलब है कि शशिकला के विश्वास पात्र इडापैडी के पलानीस्वामी को विधायक दल का नया नेता चुना गया है और पनीरसेल्वम की पार्टी की प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर दी गई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi