S M L

भारत-इजराइल के बीच 7 समझौते, कृषि क्षेत्र पर दिया जोर

इन समझौतों में इसरो और इजराइल की स्पेस एजेंसी की बीच हुआ करार अहम है

FP Staff | Published On: Jul 05, 2017 07:36 PM IST | Updated On: Jul 05, 2017 07:36 PM IST

0
भारत-इजराइल के बीच 7 समझौते, कृषि क्षेत्र पर दिया जोर

इजराइल दौरे के दूसरे दिन पीएम नरेंद्र मोदी और बेंजामिन नेतन्याहू की प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत खत्म हुई. इस बातचीत के दौरान भारत और इजराइल के बीच 7 समझौते हुए.

इन समझौतों में इसरो और इजराइल की स्पेस एजेंसी की बीच हुआ करार अहम है. इसके साथ ही दोनों देशों के बीच कृषि क्षेत्र में भी अहम समझौते हुए.

भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर ने मीडिया से कहा, 'हमने 7 MoUs पर दस्तखत किए. हमारे बीच कृषि, डिफेंस, विदेश नीति, उच्च शिक्षा, रिसर्च एंड डेवलपमेंट, वाटर रीसाइक्लिंग, आतंकवाद, साइबर तकनीक आदि मुद्दों पर सहयोग के लिए सहमति बनी.'

modi-in-israel

मोदी ने बातचीत खत्म होन के बाद बताया कि हमने पश्चिम एशिया और व्यापक क्षेत्र की स्थिति पर चर्चा की. मोदी ने कहा कि भारत को उम्मीद है कि शांति, वार्ता और सयंम कायम रहे.

पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने उसी तरह से हिंसा और आतंकी धमकियों को झेला है जिस तरह से इस्राइल ने. हमने अपने रणनीतिक हितों की रक्षा करने पर सहमति जताई है.

इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने मोदी के साथ वार्ता के बाद कहा कि हमें आतंकवाद की शक्तियां चुनौती दे रही हैं. उन्होंने कहा कि हमने इस क्षेत्र में सहयोग पर सहमति जताई है.

बातचीत के बाद साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा कि विकास के बारे में दोनों देशों के विचार एक जैसे हैं. यह हमारी दोस्ती को और मजबूत करता है. साथ ही पीेएम मोदी ने इजराइली तकनीक की जमकर तारीफ की.

उन्होंने कहा कि तकनीक के क्षेत्र में इजराइल दुनिया में काफी आगे है. साथ ही पीएम ने इजराइल को विश्व में आविष्करों का गढ़ बताया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi