S M L

शशिकला की पेरोल खत्म, बेंगलुरु जेल के लिए हुईं रवाना

आय से अधिक संपत्ति रखने के मामले में उन्हें सजा सुनाई गई थी. वह फरवरी से परप्पना अग्रहारा जेल में बंद हैं

Bhasha Updated On: Oct 12, 2017 02:44 PM IST

0
शशिकला की पेरोल खत्म, बेंगलुरु जेल के लिए हुईं रवाना

एआईएडीएमके प्रमुख के पद से हटाई जा चुकीं वी के शशिकला गुरुवार को बेंगलुरु की परप्पना अग्रहारा जेल में रिपोर्ट करने के लिए रवाना हो गईं.

शशिकला को अस्पताल में भर्ती उनके पति को देखने के लिए मिली पैरोल की अवधि बुधवार को खत्म हो गई थी. शशिकला टी नगर में अपनी करीबी रिश्तेदार कृष्णा प्रिया के घर से गुरुवार को सुबह रवाना हुईं. पैरोल की पांच दिन की अवधि में वह हर दिन अपने पति एम नटराजन से मिलने अस्पताल जाती थीं. नटराजन की गुर्दा और लिवर के ट्रान्सप्लांट के लिए सर्जरी की गई थी.

ग्लेनईगल्स ग्लोबल हेल्थ सिटी के मुताबिक, नटराजन का स्वास्थ्य पहले से बेहतर हो रहा है. इसी अस्पताल में चार अक्तूबर को नटराजन का अंग ट्रान्सप्लांट किया गया था.

मुख्यमंत्री के पलानीसामी के नेतृत्व वाले गुट ने शशिकला को पिछले महीने पार्टी से निकाल दिया था. कार से बेंगलुरू जा रहीं शशिकला को ट्रेड सेंटर प्वॉइंट सहित कई इलाकों में रुकना पड़ा जहां पार्टी कैडर के लोग उनका स्वागत करने के लिए उनका इंतजार कर रहे थे.

उनके सही समय पर बेंगलुरु पहुंचने की उम्मीद है जहां वह पैरोल की शर्तों के मुताबिक, शाम छह बजे तक जेल परिसर में रिपोर्ट कर सकेंगी. आय से अधिक संपत्ति रखने के मामले में उन्हें जेल की सजा सुनाई गई थी. वह फरवरी से परप्पना अग्रहारा जेल में बंद हैं.

उन्हें सात अक्तूबर से 11 अक्तूबर तक आपात पैरोल पर छोड़ा गया था जहां उन्हें कई शर्तों का पालन करना था. इसमें मीडिया से बात न करने का आदेश भी शामिल था. शशिकला का यह दौरा ऐसे समय में हुआ है जब उनके भतीजे और अन्नाद्रमुक से दरकिनार किए गए नेता टीटीवी दिनाकरण और पलानीसामी एवं उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम के नेतृत्व वाले गुट के बीच दो पत्तियों वाले चिन्ह् को हासिल करने की लड़ाई चल रही है. इस चिह्न को चुनाव आयोग ने फ्रीज कर दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi