S M L

रायन स्कूल के 2 अधिकारी गिरफ्तार, CBI जांच की मांग

स्कूल के दो अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है. इनके खिलाफ जुवनाइल जस्टिस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है

FP Staff Updated On: Sep 11, 2017 10:55 AM IST

0
रायन स्कूल के 2 अधिकारी गिरफ्तार, CBI जांच की मांग

गुरुग्राम के रायन इंटरनेशनल स्कूल में बच्चे की हत्या के बाद बीते दो दिनों से प्रदर्शन चल रहा है. सोमवार को भी किसी तरह की अशांति न हो और ऐहतियात के तहत स्कूल को बंद रखा गया है. स्कूल में सात वर्षीय बच्चे की हत्या की सीबीआई जांच की मांग को लेकर सैकड़ों लोगों ने विद्यालय परिसर के बाहर प्रदर्शन किया. हरियाणा सरकार ने कहा कि वह इस मांग को स्वीकार करने को तैयार है, क्योंकि सरकार द्वारा गठित समिति ने स्कूल में सुरक्षा खामियां पाई हैं.

इस मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है, जिसमें स्कूल के दो अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है. जुवनाइल जस्टिस एक्ट के तहत स्कूल के को-ऑर्डिनेटर और नॉर्थ जोन के हेड फ्रांसिस थॉमस को गिरफ्तार किया गया है. वहीं सोहना के एसएचओ को भी सस्पेंड कर दिया गया है.

बच्चे के पिता ने कहा है कि सीबीआई जांच के लिए सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देंगे. वहीं राज्य सरकार ने गुरुग्राम पुलिस को सात दिनों के अंदर दायर किए जाने वाले आरोपपत्र में रायन इंटरनेशनल स्कूल के मालिक अल्बर्ट पिंटो के खिलाफ किशोर न्याय (देखभाल एवं दंड) अधिनियम, 2015 की धारा 75 के तहत मामला दर्ज करने का निर्देश दिया है.

शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि स्कूल को मंगलवार तक बंद रखने का आदेश दिया है, ताकि उसके आसपास 'शांति एवं सद्भाव बनाए रखा' जा सके. मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कहा कि मामले में कोई नरमी नहीं बरती जाएगी और स्कूल प्रबंधन को जबावदेह ठहराया जाएगा. इसी बीच स्कूल ने एक बयान जारी कर कहा कि वह पुलिस जांच में अपनी तरफ से पूरा सहयोग कर रहा है और उसे उम्मीद है कि दोषी को कानून के अनुरूप कठोरतम सजा मिलेगी.

इसके अलावा केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने भी मानव संसाधन मंत्रालय को सुझाव दिया है कि स्कूलों में नॉन टीचिंग स्टाफ के तौर पर अनिवार्य रूप से महिलाओं को ही रखा जाए ताकि रायन जैसी घटना को टाला जा सके.

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने सुझाया कि स्कूलों में वाहन चालक, कंडक्टर और गैर शिक्षण कर्मचारी महिलाएं होनी चाहिए ताकि बाल यौन शोषण की घटनाएं रोकी जा सकें. महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि उनके मंत्रालय ने इस संबंध में मानव संसाधन विकास मंत्रालय से भी संपर्क किया है. उनका बयान दो स्कूल परिसरों में दो नाबालिग छात्रों के कथित यौन उत्पीड़न की घटनाओं की पृष्ठभूमि में आया है जिनमें से एक की हत्या कर दी गयी.

हालांकि रायन इंटरनेशनल स्कूल्स ग्रुप के सीईओ रेयान पिंटो ने कहा कि स्कूल को अनुचित रूप से दोषी ठहराया या साजिशकर्ता करार दिया जाना नहीं चाहिए. इससे पहले दिन में कुछ प्रदर्शनकारियों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ अपने गुस्से का इजहार करते हुए स्कूल परिसर के भीतर शराब की बोतलें फेंकी. शराब की दुकान स्कूल से करीब 50 मीटर की दूरी पर है. प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि खाली समय में स्कूल के चालक और कंडक्टर शराब की दुकान से शराब खरीद कर पीते हैं.

गुरूग्राम पुलिस के जन संपर्क अधिकारी रविन्दर कुमार ने बताया, गुड़गांव पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए हल्का लाठीचार्ज भी किया। पुलिस ने स्कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे 20 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया.

बीते शुक्रवार को रायन इंटरनेशनल स्कूल के शौचालय के अंदर दूसरी क्लास के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की गला काट कर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद जनाक्रोश भड़क उठा था. इस कांड के सिलसिले में बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के अनुसार मामले में आरोपी अशोक कुमार कथित यौन हमले के इरादे से किसी छात्र के शौचालय में आने के इंतजार में था. प्रद्युम्न पहला छात्र था जो शौचालय में पहुंचा.

(एजेंसियों से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi