S M L

पुलिस स्टेशनों में लगे राम रहीम की बेटी हनीप्रीत के पोस्टर

नेपाल की सीमा से लगे उत्तर प्रदेश के पुलिस स्टेशनों में हनीप्रीत इंसा के फोटो लगाए गए

Bhasha Updated On: Sep 13, 2017 11:58 AM IST

0
पुलिस स्टेशनों में लगे राम रहीम की बेटी हनीप्रीत के पोस्टर

नेपाल की सीमा से लगे उत्तर प्रदेश के पुलिस स्टेशनों में गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत इंसा के फोटो लगाए गए हैं. इसके साथ ही पुलिस को सतर्क रहने को कहा गया है ताकि वह पड़ोसी देश न भाग सके.

पुलिस अधीक्षक ने क्या कहा

सिद्धार्थनगर के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार ने बताया कि नेपाल की सीमा से लगे कपिलवस्तु, मोहाना, शोहरतगढ़, लोटन और देबरूआ के पुलिस स्टेशनों को सावधान करते हुए वहां हनीप्रीत के फोटो लगाए गए हैं. खुफिया विभाग के कर्मचारियों को भी इस काम मे लगाया गया है. खासकर के 30 से 35 साल की हाई प्रोफाइल महिलाओं पर नजर रखने को कहा गया है, जो नेपाल की तरफ जाना चाहती हो.

सूत्रों ने बताया कि पुलिस ने नेपाल की सीमा से लगे उत्तर प्रदेश के महाराजगंज, लखीमपुर खीरी और बहराइच जिलों की पुलिस को भी हनीप्रीत को लेकर सावधान रहने को कहा गया है. उत्तर प्रदेश की करीब 599 किलोमीटर की सीमा नेपाल से सटी हुई है. यह सीमा प्रदेश के सात जिलों पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर और महाराजगंज से सटी हुई है.

हरियाणा पुलिस की अभी भी खोज जारी

हरियाणा पुलिस अभी हाल में हनीप्रीत की तलाश में लखीमपुर खीरी गई थी, क्योंकि उन्हें शक था कि वे इस रास्ते से नेपाल जा सकती है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक घनश्याम चौरसिया ने इस बात की पुष्टि की थी कि हरियाणा पुलिस के दो जवान इस मामले में खीरी के गौरीफंटा सीमा पर जांच पड़ताल करने आए थे. हरियाणा पुलिस ने गौरीफंटा पुलिस के साथ हनीप्रीत के बारे कुछ जानकारियां भी साझा की थी.

अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया, 'हरियाणा पुलिस को जब हनीप्रीत के यहां से जाने के बारे में कोई सुराग नहीं मिला तो वह वापस लौट गई.' उन्होंने कहा कि सीमा से एक पंजाब के नंबर की लावारिस गाड़ी बरामद हुई थी, उसके बाद से इस संबंध में जांच की जा रही है कि ये वाहन किसका है और क्या इसका हनीप्रीत से कोई संबंध है.

30 वर्षीय हनीप्रीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी है. राम रहीम बलात्कार के आरोप में बीस साल की सजा पाकर जेल में है. उनके दोषी करार दिए और जेल जाने के बाद पूरे हरियाणा में हिंसा फैल गयी थी जिसमें 36 लोगों की जान गई थी और करोड़ों रुपए की संपत्ति का नुकसान पहुंचा था. पुलिस ने एक सितंबर को हनीप्रीत के खिलाफ लुकआऊट नोटिस भी जारी किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi