S M L

सर्जिकल स्ट्राइक से घुसपैठ की घटनाओं में कमी आई: राजनाथ

भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद घुसपैठ की घटनाओं में बहुत अधिक गिरावट दर्ज की गई है

Bhasha | Published On: Jun 01, 2017 05:47 PM IST | Updated On: Jun 01, 2017 05:47 PM IST

0
सर्जिकल स्ट्राइक से घुसपैठ की घटनाओं में कमी आई: राजनाथ

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से कश्मीर में घुसपैठ की घटनाओं में कमी आने की बात कही है. राजनाथ सिंह ने कहा कि 'कश्मीर में सीमा पार आतंकवादी ठिकानों को नेस्तनाबूद करने के लिये भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद घुसपैठ की घटनाओं में बहुत अधिक गिरावट दर्ज की गई है.'

गृह मंत्री गुरुवार को दिल्ली में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में जवानों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने जवानों से सोशल मीडिया पर मौजूद संदेशों को आगे बढ़ाने या उनके इस्तेमाल के दौरान पूरी तरह से अलर्ट रहने को कहा. राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘पाकिस्तान से आतंकवादियों की घुसपैठ हो रही है लेकिन मैं यह कह सकता हूं कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद घुसपैठ की घटनाओं में काफी हद तक गिरावट आयी है. सीमाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये मैं सेना और बीएसएफ को बधाई देता हूं.’

Rajnath Singh

(फोटो: पीटीआई)

सोशल मीडिया पर सतर्क रहें जवान और अधिकारी

गृह मंत्री ने कहा कि सेना खासकर बीएसएफ को सीमा पार से मादक पदार्थ और भारतीय करेंसी की तस्करी के खिलाफ पहले से अधिक सतर्क रहना चाहिए. उन्होंने सोशल मीडिया के खतरों का भी जिक्र करते हुए कहा कि दुश्मन फेसबुक और व्हाट्सएप के जरिए अफवाहें और गलत सूचनाएं फैला रहा है.

राजनाथ सिंह ने कहा कि सुरक्षाबलों पर देश की सीमाओं की ही नहीं बल्कि उसकी एकता और अखंडता बनाए रखने की भी जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा कि 'सरकार राडार, लेजर कैमरा और अन्य अत्याधुनिक उपकरणों के जरिये सीमाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये समग्र एवं एकीकृत सीमा प्रबंधन प्रणाली (सीआईबीएमएस) को लागू करने पर तेजी से काम कर रही है.'

उन्होंने कहा कि 'हम अपनी सीमाओं की तीन स्तरीय प्रभावी सुरक्षा सुनिश्चित करने का प्रयास कर रहे हैं. इसमें बीएसएफ जैसी सुरक्षा इकाई के साथ खुफिया तंत्र और स्थानीय पुलिस की मौजूदगी को शामिल किया जायेगा.' भारतीय सेना ने पिछले साल सितंबर महीने में सर्जिकल स्ट्राइक करते हुए एलओसी के पार जाकर आतंकी ठिकानों और शिविरों को नष्ट किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi