S M L

राजस्थान: दुर्लभ पक्षी द ग्रेट इंडियन बस्टर्ड के आ रहे अच्छे दिन

पोखरण में इन दुर्लभ गोडावण पक्षियों का कुनबा तीन सालों में तीन गुना बढ़ गया है.

Bhasha Updated On: Sep 16, 2017 04:55 PM IST

0
राजस्थान: दुर्लभ पक्षी द ग्रेट इंडियन बस्टर्ड के आ रहे अच्छे दिन

दुनिया भर में द ग्रेट इंडियन बस्टर्ड के रूप में पहचाने जाने वाले दुर्लभ राज्यपक्षी गोडावण के कुनबे में तीन साल में करीब तीन गुना तक की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है.

वन्यजीव विशेषज्ञों के अनुसार, वर्ष 2015 में की गई गोडावण की गणना में पोखरण के गोडावण रेसिडेंशियल क्लोजर में 11 गोडावण देखे गए थे. इनकी संख्या अब बढ़कर वर्ष 2017 में 31 हो गए हैं.

पोखरण के क्षेत्रीय वन अधिकारी (वन्यजीव) पूरणसिंह राठौड़ ने बताया कि गोडावण संरक्षण के लिए डीएनपी की पोखरण वन्यजीव रेंज में वन्यजीवों की सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए जाने के कारण यह कुनबा बढ़ रहा है .

उन्होंने कहा कि गोडावण के कुनबे के बढ़ने का सबसे बड़ा कारण यहां के जंगल में गोडावण के अंडों को सुरक्षित व संरक्षित करने के प्रयास माने जा रहे हैं. तीन साल में बीस गोडावण बढ़े हैं.

वन्यजीव विशेषज्ञों के अनुसार, गत साल यहां छह मादा गोडावण ने अंडे दिए थे, वहीं इस साल करीब 11 मादा गोडावण ने अंडे दिए है, जो नन्हें गोडावण में बदल चुके हैं और इन दिनों अठखेलियां कर रहे है .

विशेषज्ञों के अनुसार पोखरण की आबोहवा गोडावण को पहले से ही पसंद आ रही है. वन विभाग की डीएनपी रेंज ने तीन साल पहले गोडावण संरक्षण के लिए रेंज स्थापित कर यहां गोडावण प्रजनन केंद्र बनाने का लक्ष्य निर्धारित कर गोडावण संरक्षण का काम शुरू कर दिया था, जिसका परिणाम गोडावण के कुनबे में हुई बढ़ोत्तरी के रुप में सामने है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi