S M L

क्विक शॉट: राष्ट्रपति के लिए बेस्ट ऑप्शन हैं राहुल गांधी

देश-दुनिया की हर हलचल पर आलोक पुराणिक की टेढ़ी नजर.

Alok Puranik Alok Puranik | Published On: Jun 20, 2017 08:44 AM IST | Updated On: Jun 20, 2017 08:44 AM IST

क्विक शॉट: राष्ट्रपति के लिए बेस्ट ऑप्शन हैं राहुल गांधी

#PresidentialPoll

राहुल गांधी राष्ट्रपति

बार-बार विदेश जाना, सक्रिय राजनीति में भाग न लेना, बहुत ही कम लोगों से मिलना, सुपर वीआईपी इमेज-राष्ट्रपति से जुड़ी ये बातें बार-बार दिमाग में आती हैं न.

राहुल गांधी से ज्यादा कौन खरा उतरता है इन बातों पर.

#PresidentialPoll

शिवसेना का विपक्षी सपोर्ट

बीजेपी अगर अपनी सहयोगी पार्टी शिवसेना से राष्ट्रपति पद के बिना चूं-चकर के सहयोग लेने में सफल हो जाती है, तो इसे सत्ता-विपक्ष सहयोग की सबसे बड़ी मिसाल के तौर पर याद किया जायेगा.

#PresidentialPoll

मल्लब कनफ्यूजनात्मक समझ

राष्ट्रपति चुनाव में मायावती बीजेपी के साथ हैं, वैसे मायावती कांग्रेस-समाजवादी पार्टी के साथ हैं. कांग्रेस लेफ्ट के साथ है, लेफ्ट बीजेपी के विरोध में है, पर यूं मायावती के साथ हैं. और मायावती बीजेपी के साथ हैं.

क्या कहा विकट कनफ्यूजिंग, जी ठीक अब आप इंडियन पॉलिटिक्स समझ गये.

#PresidentialPoll

कनफ्यूजन ही कनफ्यूजन मिल तो लें

नीतीश कुमार कांग्रेस के साथ हैं पर राष्ट्रपति चुनाव के मसले पर बीजेपी के साथ भी लग रहे हैं, यूं नीतीश के सहयोगी लालू हैं, जो बीजेपी के साथ बिलकुल नहीं हैं. उड़ीसा के नवीन पटनायक भी बीजेपी के साथ नहीं हैं, पर राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए भाजपा के साथ हैं.

ये हो क्या रहा है, जी फुलटू कनफ्यूजन, फुलटू कनफ्यूज्ड जब फील करें, तो समझ लें कि भारतीय राजनीति समझ ली है आपने.

#PresidentialPoll

क्यों कटा

लालकृष्ण आडवाणी के लिए वामपंथी और शत्रुघ्न सिन्हा इतने चिंतित हैं कि आडवाणीजी लेफ्ट और शत्रुघ्न सिन्हा के ही उम्मीदवार लग रहे हैं.

खोज का विषय यह है कि आडवाणीजी का नाम राष्ट्रपति प्रत्याशी सूची से कटने की वजह लेफ्ट है या शत्रुघ्न सिन्हा.

#PresidentialPoll

साथ-साथ हैं, कौन

राष्ट्रपति चुनाव में सोनियाजी-येचुरीजी आदि के तंबू से एक नारा उठता-हम सब साथ-साथ हैं.

फिर येचुरीजी पूछते हैं- सोनियाजी.वैसे अब हमारे तंबू में हमारे साथ बचा कौन-कौन है.

#INDvPAK

फील एट होम

इंगलैंड में फिर बम धमाके हो लिये. पाक टीम ने जीतने के बाद ब्रिटिश सरकार से अनुरोध किया है, इतने बम धमाके होने लगे हैं ब्रिटेन में अब तो यहीं पाकिस्तान का फील आ रहा है, अब यहीं रहने दें ना हमें.

#amitabhbachchan

इमेज चौपट

अमिताभ बच्चन क्रीम, खाने का तेल, गुजरात टूरिज्म, सफाई अभियान के बाद अब जीएसटी का भी इश्तिहार करेंगे.

बच्चन साहब सुबह से शाम तक टीवी में इतना दीखते हैं कि उन्हे देखकर बाहरी दुनिया में इंडिया की इमेज खराब हो ली है कि इंडिया में बूढ़ों को रोटी-पानी कमान के लिए सुबह से शाम तक इतना काम करना पड़ता है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi