S M L

पुडुचेरी की उपराज्‍यपाल किरण बेदी ने पेश किया अपना रिपोर्ट कार्ड

किरण बेदी ने बताया कि राजनिवास के दरवाजे आम जनता के लिए खोलना रिपोर्ट कार्ड की सबसे अहम पहल रही

Bhasha | Published On: Jun 04, 2017 10:28 PM IST | Updated On: Jun 05, 2017 09:40 AM IST

पुडुचेरी की उपराज्‍यपाल किरण बेदी ने पेश किया अपना रिपोर्ट कार्ड

पुडुचेरी की उपराज्‍यपाल किरण बेदी ने अपने एक साल के कामकाज का लेखाजोखा पेश किया है. उन्‍होंने मोदी सरकार के सभी मंत्रालयों के तीन साल के कार्यकाल के कामकाज का ब्यौरा देने की तर्ज पर यह कदम उठाया है.

किरण बेदी की इस पहल के साथ ही किसी निर्वाचित सरकार वाले राज्य में राज्यपाल या उपराज्यपाल के अपने कामकाज का ब्यौरा पेश करने की नई शुरुआत हुई है. हालांकि जानकारों की राय में इस तरह की पहल किसी राज्य में राज्यपाल या उपराज्यपाल द्वारा करने की परंपरा या परिपाटी नहीं है.

देश की पहली महिला आईपीएस अधिकारी बेदी को 22 मई 2016 को पुडुचेरी का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया था. अपने कार्यकाल के पहले साल का ब्‍यौरा देते हुए किरण बेदी ने जनता से बातचीत भी की.

क्या रहा बेदी का सबसे अहम काम?

बेदी ने बताया कि दो दिन के इस कार्यक्रम में पहले दिन 2 जून को के अधिकारियों के साथ एक साल के कामकाज की समीक्षा की गई. इसके बाद 3 जून को अपने कामकाज पर जनता के साथ बातचीत की गई. उन्होंने बताया कि राजनिवास के दरवाजे आम जनता के लिए खोलना रिपोर्ट कार्ड की सबसे अहम पहल रही.

रिपोर्ट कार्ड में बेदी ने जनता के कामों को लेकर अधिकारियों और संगठनों के साथ 386 टाउन हॉल मीटिंग करने का भी उल्लेख किया. उन्होंने कहा, ‘इस पहल का नतीजा यह रहा कि राजनिवास को अब जनता के कार्यालय के रूप में देखा जाने लगा है. इसमें समाज के हर वर्ग की पहुंच आसान हुई है.’

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi