S M L

एयरलाइनों के साथ बदतमीजी: लोकसभा में 'फ्लाइट प्रॉहिबिशन लिस्ट' पेश, राज्यसभा को मंजूर नहीं

राज्यसभा ने कहा, 'एयरलाइनें किसी पर उड़ान पर प्रतिबंध नहीं लगा सकतीं.'

Bhasha Updated On: Jul 20, 2017 07:29 PM IST

0
एयरलाइनों के साथ बदतमीजी: लोकसभा में 'फ्लाइट प्रॉहिबिशन लिस्ट' पेश, राज्यसभा को मंजूर नहीं

सरकार ने एयरलाइनों के साथ हुई उपद्रवी घटनाओं को नजर में रखते हुए एक मसौदा संशोधन अधिनियम में अशिष्ट यात्रियों से निपटने का प्रावधान किया है.

केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने गुरुवार को लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि नागर विमानन अपेक्षाएं (सीएआर) खंड तीन श्रृंखला एम, भाग-चार (इसका शीर्षक है- उपद्रवी और बाधा पहुंचाने वाले यात्रियों को संभालना) के मसौदा संशोधन में एयरलाइंस के लिए ‘फ्लाइट प्रॉहिबिशन लिस्ट’ बनाने का प्रावधान है.

मंत्री ने बताया कि सरकार देश के कई एयरपोर्ट्स पर यात्रियों की उपद्रव की घटनाओं से अवगत है. साल 2016 में इस तरह की 294 जबकि 2017 में 161 घटनाएं हुई.

एयरलाइनें प्रतिबंध नहीं लगा सकतीं: पीजे कुरियन

लेकिन, इस मुद्दे पर राज्यसभा में कुछ विचार अलग थे. राज्यसभा के उप सभापति पीजे कुरियन ने कहा कि एयरलाइनें किसी पर भी उड़ान प्रतिबंध नहीं लगा सकतीं.

कुरियन ने कहा कि एयरलाइनें सांसदों सहित किसी भी व्यक्ति के हवाई यात्रा पर प्रतिबंध नहीं लगा सकतीं और कानून को अपना काम करना चाहिए.

कुरियन ने यह टिप्पणी तब की जब सपा सदस्य नरेश अग्रवाल ने सरकारी स्वामित्व सहित बड़ी घरेलू एयरलाइनों के हाल ही में उड़ान भरने पर प्रतिबंध लगाए जाने का मुद्दा उठाया. अग्रवाल यह जानना चाहते थे कि क्या एयरलाइनें ऐसे प्रतिबंध लगा सकती हैं. उनके अनुसार, इस तरह की कार्रवाई संसद सदस्यों के अधिकारों का हनन है.

पीजे कुरियन.

पीजे कुरियन.

कानून अपना काम करे

इस पर कुरियन ने सहमति जताते हुए कहा कि अग्रवाल ने ‘उचित विषय’ उठाया है कि अगर किसी सांसद ने कानून के खिलाफ कोई काम किया है तो कानून को अपना काम करना चाहिए.

कुरियन ने कहा कि एयरलाइनों को यह अधिकार नहीं दिया गया है कि वह किसी को सजा दें. ‘मेरे विचार से, सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए.’

उप सभापति ने कहा ‘सांसद भी नागरिक हैं. अगर वो कोई गलती या अपराध करते हैं तो कानून को इस पर अपना काम करना चाहिए.’ उन्होंने आगे कहा कि ‘किसी अपराध के लिए सांसद को सजा दिया जाना...ऐसा नहीं किया जा सकता. एयरलाइनें ऐसा नहीं कर सकतीं.’

अपराध नहीं उल्लंघन

कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने उप सभापति को सुझाव दिया कि ‘अपराध’ शब्द की जगह ‘उल्लंघन’ शब्द का उपयोग किया जाना चाहिए. तब कुरियन ने कहा कि अगर एक व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति को पीटता है तो यह अपराध है.

विभिन्न एयरलाइनों ने टीडीपी सांसद जे सी दिवाकर रेड्डी पर से तब उड़ान प्रतिबंध कल हटा दिया जब अदालत से सरकार को और एविएशन रेगुलेटर डीजीसीए को घरेलू एयरलाइनों की कार्रवाई के खिलाफ सांसद की अपील पर ‘वेरी इंपॉर्टेंट’ नोटिस मिले.

जेसी दिवाकर रेड्डी.

जेसी दिवाकर रेड्डी.

रेड्डी की विशाखापटनम हवाईअड्डे पर 15 जून को इंडिगो एयरलाइन के कर्मचारियों के साथ बहस हो गई थी. उन्हें बताया गया था कि हैदराबाद के लिए उनकी उड़ान की बोर्डिंग बंद हो चुकी है. इस पर नाराज होकर उन्होंने एयरलाइन के काउंटर पर रखा प्रिंटर कथित तौर पर फेंक दिया था.

रेड्डी से पहले शिवसेना के राज्यसभा सदस्य रविंद्र गायकवाड़ पर घरेलू एयरलाइनें उड़ान पर प्रतिबंध लगा चुकी हैं. उन पर इस साल मार्च में यह प्रतिबंध तब लगाया गया था जब उन्होंने एयर इंडिया के विमान में ‘बिजनेस क्लास सीट’ मुहैया न कराए जाने पर, एयरलाइन के एक अधिकारी की कथित तौर पर चप्पल से पिटाई कर दी थी.

यह प्रतिबंध एक पखवाड़े बाद तब हटाया गया था जब गायकवाड़ की ओर से यह हलफनामा दिया गया कि वह भविष्य में इस तरह के आचरण से बचेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi