S M L

पाकिस्तानी मीडिया में क्यों हिट हो गए योगी आदित्यनाथ

पाकिस्तानी मीडिया ने योगी को शाहरुख खान का विरोधी बताया

FP Staff Updated On: Mar 21, 2017 10:21 PM IST

0
पाकिस्तानी मीडिया में क्यों हिट हो गए योगी आदित्यनाथ

भारतीय सियासत के लिहाज से देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश का सीएम योगी आदित्यनाथ बनने की खबर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की मीडिया में भी टॉप हेडलाइंस में शामिल रही है. पाकिस्तानी मीडिया ने योगी को बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान का विरोधी बताते हुए उनके पिछले बयानों पर खासा ध्यान दिया है.

आपको बता दें योगी आदित्यनाथ पाकिस्तान में उन दिनों में सुर्खियों में थे जब उन्होंने पाकिस्तानी कलाकारों के खिलाफ बयान दिया था. ऐसे में यूपी का अगला सीएम नियुक्त होने के बाद पाकिस्तान मीडिया ने भी योगी की इस छवि को केंद्र रखते हुए रिपोर्ट गढ़ी.

क्या कह रही है पाक मीडिया

डॉन उर्दू ने 'हिंदू कटट्टरपथी योगी आदित्यनाथ बना उत्तर प्रदेश का सीएम इस हेंडिग के साथ खबर को लिखा. उन्होंने योगी आदित्यनाथ की प्रोफाइल का जिक्र करते हुए रिपोर्ट में लिखा- योगी आदित्यनाथ अपनी कट्टर हिंदुत्व विचारधारा के कारण मशहूर हैं. कई बार मुसलमानों और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के खिलाफ सख्त बयान दे चुके हैं.

योगी आदित्यनाथ हिंदू उग्रवादी संगठन 'हिंदू वाहिनी के अध्यक्ष भी हैं, जिस पर सांप्रदायिक तनाव को हवा देने का आरोप लगाया जाता है. लोकसभा में अपनी प्रोफाइल में उत्तर प्रदेश के मनोनीत मुख्यमंत्री ने खुद को 'धार्मिक मिशनरी और सामाजिक कार्यकर्ता' बनाकर पेश किया है.

उत्तर प्रदेश में हाल के चुनावों में उन्होंने हिंदुओं के खिलाफ भेदभाव के दावे करके राज्य की जनता में मुस्लिम विरोधी भावनाओं को उभारने का काम उन्होंने बखूबी किया जिसके सिले के तौर पर यूपी की सीएम की कुर्सी हाथ में लगी.

बीबीसी पाकिस्तान ने योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने के ऐलान के बाद उनके भड़काऊ बयानों के लिस्ट के शक्ल में एक रिपोर्ट लिखी जिसमें लव जेहाद से लेकर मुस्लिम आबादी के बारे योगी के बयान भी शामिल थे.

पाकिस्तान के‘रोजनामा एक्सप्रेस’ ने अपने संपादकीय की हेडलाइन लगाई- 'एक कट्टर हिंदू यूपी का सीएम बन गया'.

अखबार लिखता है, ‘योगी आदित्यनाथ एक मंदिर का पुजारी और उसके संरक्षक हैं. वे भारत में हिंदुत्व के झंडाबरदार के तौर पर शोहरत रखते हैं. योगी आदित्यनाथ अयोध्या में चरमपंथियों के द्वारा गिराई गई बाबरी मस्जिद की जगह मंदिर बनाने के भी जबरदस्त समर्थक हैं.

अखबार लिखता है कि यूपी में बीजेपी को मिली भारी जीत से साबित होता है कि वहां हिंदू कट्टरपंथ कम नहीं हो रहा है, बल्कि बढ़ रहा है. और ऊपर से योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाने से साफ हो जाता है कि भारत में सेक्युलरिज्म की सोच दम तोड़ रही है.

उम्मत अखबार ने लिखा है कि बीजेपी के इस फैसले से न सिर्फ दुनिया के शांतिप्रिय हलके परेशान हैं, बल्कि भारत के लोग भी परेशान हैं.

अखबार लिखता है कि एक बार आदित्यनाथ ने कहा था कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक खास कम्युनिटी की आबादी बहुत बढ़ गई है और इसीलिए वहां दंगे बढ़े हैं. मुसलमानों के खिलाफ योगी आदित्यनाथ की भड़काऊ बयानबाजी का जिक्र करते हुए अखबार लिखता है कि योगी आदित्यनाथ अपने राज में यूपी के मुसलमानों पर क्या कयामत ढाएंगे?

वहीं पाकिस्तानी न्यूज चैनल एआरवाई ने भी इस पर एक रिपोर्ट टेलीकॉस्ट की. इसमें कहा गया कि शाहरुख खान को धमकियां देने वाले शख्स को बीजेपी ने उत्तर प्रदेश का सीएम नियुक्त कर दिया है.

पाकिस्तान में शाहरुख खान उतनी ही लोकप्रिय हैं जितने भारत में. ऐसे में उनके खिलाफ भारतीय नेताओं का कोई दिया गया बयान वहां की मीडिया की सुर्खियों में बदल जाता है. ऐसे में योगी आदित्यनाथ को शाहरुख खान का विरोधी पेश करके खबर दिखाना भी टीआरपी लाने का तरीका ही भर है.

साभार न्यूज18

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi