विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

एनजीटी ने मूर्ति विसर्जन के बाद यमुना की सफाई पर दिल्ली सरकार से मांगी रिपोर्ट

एनजीटी में पर्यावरण कार्यकर्ता आकाश वशिष्ठ की याचिका पर सुनवाई हो रही है

Bhasha Updated On: Oct 02, 2017 10:05 PM IST

0
एनजीटी ने मूर्ति विसर्जन के बाद यमुना की सफाई पर दिल्ली सरकार से मांगी रिपोर्ट

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने दिल्ली सरकार को गणेश और दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन के बाद यमुना नदी की स्थिति पर रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया है. एनजीटी में पर्यावरण कार्यकर्ता आकाश वशिष्ठ की याचिका पर सुनवाई हो रही है.

एनजीटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि एक विस्तृत हलफनामा दाखिल किया जाना चाहिए. जिसमें नदी की सफाई के लिए उठाए जा रहे कदमों का ब्योरा हो.

अधिकरण ने दिल्ली सरकार और दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) से यमुना सफाई कार्य के पहले चरण के क्रियान्वयन पर उसके निर्देशों के अनुपालन पर स्थिति रिपोर्ट भी जमा करने को कहा है. पहला चरण नजफगढ़ और दिल्ली गेट में प्रदूषण रोकने और नियंत्रित करने से संबंधित है.

 पारा, कैडमियम, सीसा तथा कार्बन काफी मात्रा में बहाए गए हैं नदी में 

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए पक्ष रख रहे वकील ने कहा कि 'त्योहारी मौसम और प्रतिमाओं के विसर्जन के बाद यमुना नदी और उसके डूब क्षेत्र को साफ करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं.’

यमुना नदी में हजारों गणेश प्रतिमाओं का अगस्त महीने में गणेश चतुर्थी के बाद विसर्जन किया गया था. फिर नवरात्र के बाद दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन भी हाल ही में किया गया. इससे नदी में प्लास्टर ऑफ पेरिस से बनी और पारा, कैडमियम, सीसा तथा कार्बन काफी मात्रा में बहाए गए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi