S M L

गैंगस्टर आनंदपाल के शव का 17वें दिन भी अंतिम संस्कार नहीं, इंटरनेट पर बैन का आदेश

ये आदेश 12 जुलाई को रात 12 बजे तक प्रभावी रहेंगे

FP Staff Updated On: Jul 10, 2017 08:27 PM IST

0
गैंगस्टर आनंदपाल के शव का 17वें दिन भी अंतिम संस्कार नहीं, इंटरनेट पर बैन का आदेश

पुलिस एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर आनंदपाल के शव का 17वें दिन भी अंतिम संस्कार नहीं हो पाया है. मामले में आगामी 12 जुलाई को समाज ने सांवराद गांव में श्रृद्धाजंलि सभा रखी है.

इस सभा को देखते हुए नागौर मजिस्ट्रेट कुमारपाल गौतम ने दो दिन तक इंटरनेट सेवा पर बैन के आदेश जारी किए हैं. ये आदेश 12 जुलाई को रात 12 बजे तक प्रभावी रहेंगे. जिला मजिस्ट्रेट किसी तरह की अफवाह फैलने से रोकने और माहौल शांतिपूर्ण बना रहे इसके लिए यह कदम उठाया है.

इधर, करणी सेना के सरंक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी सोमवार को सांवराद पहुंचे और सभा की तैयारियों का जायजा लिया. इसके अलावा उन्होंने आनंदपाल के परिवार से भी चर्चा की है.

वहीं पुलिस पिछले 17 दिनों से सांवराद गांव में डेरा डाले हुए है. प्रशासनिक अधिकारी भी सुबह से शाम तक सांवराद गांव के आसपास ड्यूटी करते नजर आते हैं, तो वहीं सांवराद गांव के निवासी बार-बार पुलिस की चैकिंग और गांव में भारी पुलिस जाब्ते के रहते अपने आप को असहज महसूस करने लगे हैं.

हालांकि पुलिस बल की संख्या धीरे-धीरे कम कर दी गई है, पर चैक पोस्ट यथावत रखी गई है. जहां हर आने वाले वाहन को चैक कर ही सांवराद गांव में प्रवेश दिया जाता है.

ग्रामीणों का कहना है कि आनंदपाल का अंतिम संस्कार उनके लिए परेशानी का सबब बना हुआ है, जिसके चलते उन्हें भी परेशानी उठानी पड़ रही है.

गौरतलब है कि राजस्थान पुलिस ने आनंदपाल को 24 जून की रात मुठभेड़ में ढेर कर दिया था, तब से लेकर सोमवार तक 17 दिन बीत चुके हैं लेकिन उसके शव का अंतिम संस्कार नहीं हो पा रहा है. आनंदपाल राजस्थान का मोस्ट वॉन्टेड और 5 लाख का इनामी गैंगस्टर था. उसके एनकाउंटर के बाद से ही प्रदेश में खलबली मची हुई है

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi