विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

मध्यप्रदेश: गैंगरेप पीड़ित छात्रा की FIR दर्ज करने में लापरवाही, नपे पुलिसकर्मी

घटनास्थल को लेकर तीन पुलिस थानों के बीच हुए सीमा के विवाद में बलात्कार पीड़ित छात्रा की FIR दर्ज करने से मना किया गया था

Bhasha Updated On: Nov 03, 2017 08:41 PM IST

0
मध्यप्रदेश: गैंगरेप पीड़ित छात्रा की FIR दर्ज करने में लापरवाही, नपे पुलिसकर्मी

मध्यप्रदेश पुलिस ने एक छात्रा से कथित रूप से सामूहिक बलात्कार की घटना की FIR दर्ज करने में लापरवाही के आरोप में एक सब इंस्पेक्टर और तीन पुलिस थानों के इंस्पेक्टर इंचार्ज को निलंबित कर दिया है.

इसके अलावा इस मामले में एक सिटी सुप्रीटेंडेंट (सीएसपी) को मैदानी ड्यूटी से हटाकर पुलिस मुख्यालय में ट्रांसफर किया गया है.

एमपी डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) आर. के. शुक्ला ने शुक्रवार को भोपाल में बताया, ‘हमने इस मामले में तीन पुलिस थानों हबीबगंज, एमपी नगर और जीआरपी, हबीबगंज के इंस्पेक्टर इंचार्ज और एमपी नगर थाने के एक सब इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया है. इसके अलावा एक सिटी सुप्रीटेंडेंट का ट्रांसफर पुलिस मुख्यालय में किया गया है.’

सीमा विवाद के कारण 24 घंटे देर से दर्ज हुई प्राथमिकी 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस जांच में पुष्टि हुई है कि घटनास्थल को लेकर तीन पुलिस थानों के बीच सीमा विवाद होता रहा. इससे  बलात्कार पीड़ित छात्रा की प्राथमिकी दर्ज करने से मना किया गया. पीड़िता की प्राथमिकी दर्ज होने में लगभग 24 घंटे की देरी हुई.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पीड़ित छात्रा 31 अक्टूबर की रात कोचिंग से वापस घर जाने के लिए रेलवे लाइन के किनारे से हबीबगंज रेलवे स्टेशन की ओर जा रही थी. उसी वक्त चार बदमाशों ने उसे अगवा कर पास ही रेलवे पुलिया के नीचे ले जाकर कथित तौर पर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया.

उन्होंने बताया कि मंगलवार रात की घटना गुरूवार को मीडिया में आने के बाद सामने आई. इसके बाद इस मामले में प्राथमिक जांच के बाद लापरवाह अधिकारियों की खिलाफ कार्रवाई की गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi