विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

एमके स्टालिन ने तमिलनाडु के किसानों के लिए कर्ज माफी की मांग की

एमके स्टालिन ने जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे तमिलनाडु के किसानों से मुलाकात की

Bhasha Updated On: Apr 01, 2017 03:59 PM IST

0
एमके स्टालिन ने तमिलनाडु के किसानों के लिए कर्ज माफी की मांग की

डीएमके के कार्यवाहक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे तमिलनाडु के किसानों से मुलाकात की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके ऋृण माफ करने की मांग की.
जिस तरह हाल में उत्तर-प्रदेश विधानसभा चुनाव में उन्होंने वहां के किसानों से वादा किया था. तमिलनाडु के विभिन्न दलों के नेताओं ने 19 दिनों से जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों को अपना समर्थन दिया है.
ये किसान केंद्र से 40,000 करोड़ रूपए के सूखा राहत पैकेज और कृषि ऋृण माफी की मांग कर रहे हैं.
स्टालिन ने पत्रकारों से कहा, 'भाजपा ने उत्तर प्रदेश में अपने चुनावी घोषणापत्र में जिस तरह किसानों के ऋृण माफ करने का वादा किया था, वैसे ही वादा उन्हें तमिलनाडु के किसानों से भी करना चाहिए.'
तमिलनाडु विधानसभा में विपक्ष के नेता ने कहा कि मोदी को किसानों को उनसे मिलने की अनुमति देनी चाहिए और जितनी जल्दी हो सके उन्हें कोई ऐसा समाधान दिया जाना चाहिए जिससे उन्हें सांत्वना मिले.
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ईदापड्डी पलानीस्वामी पर तंज कसते हुए स्टालिन ने कहा, 'मुख्यमंत्री अभी केवल आर के नगर चुनावों को लेकर उत्सुक हैं. उन्होंने कहा, 'सत्तारूढ़ पार्टी न तो कोई मदद करने और न केंद्र से कुछ ले पाने में सक्षम है.'
'राज्य और केंद्र सरकार केवल एक-दूसरे पर आरोप मढ़ने में लगी है, मुद्दे पर बहस करने की जगह उन्हें तत्तकाल किसानों की परेशानियों पर विचार करना चाहिए.'
सीपीआई के राष्ट्रीय सचिव डी.राजा, डीएमके के सांसद तिरची शिवा और टी के एस इलांगोवन भी मौके पर मौजूद थे.
स्टालिन के कहा कि इन मुद्दों पर जल्द ही सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया जाएगा.
उन्होंने कहा, 'मैंने अयाक्कन्नू जो विरोध प्रदर्शन को नेतृत्व कर रहे हैं उनसे हड़ताल खत्म करने को कहा है लेकिन वे तैयार नहीं हैं. इस मुद्दे पर आगे क्या कदम उठाए जाए यह तय करने के लिए राज्य में एक सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया जाएगा.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi