S M L

नई तकनीक से मारुति की गाड़ियों का माइलेज और बढ़ेगा

कंपनी अपने सभी वाहनों पर सीओ2 एमिशन में लगभग 19 फीसदी की कटौती करने में सफल रही है

Bhasha | Published On: Jun 05, 2017 06:17 PM IST | Updated On: Jun 05, 2017 06:17 PM IST

नई तकनीक से मारुति की गाड़ियों का माइलेज और बढ़ेगा

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) अपने वाहनों में एमिशन घटाने और फ्यूल एफिसिएंसी बढ़ाने के लिए नई तकनीक पर फोकस कर रही है.

कंपनी ने कहा कि वह 2007-08 से लगभग एक दशक में अपनी सभी गाड़ियों के कार्बन उत्सर्जन मेंऔसतन करीब 19 फीसदी कटौती करने में सफल रही है.

मारुति सुजुकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक (इंजीनियरिंग) सी वी रमन ने सोमवार को एक बयान में कहा, 'आगे चलकर हम नई तकनीक पर निवेश जारी रखेंगे. हम अपनी कारों की फ्यूल एफिसिएंसी बढ़ाकर प्रति वाहन एमिशन में कमी की क्षमता को मजबूत करेंगे.'

बलेनो और नई डिजायर हार्टेक्ट प्लेटफॉर्म पर आधारित

मौजूदा इंजन और ट्रांसमिशन में सुधार के अलावा मारुति सुजुकी नई पीढ़ी के हल्के प्लेटफॉर्म पर भी फोकस करेगी...मसलन हार्टेक्ट आदि. कंपनी की बलेनो और नई डिजायर मॉडल इसी पर आधारित है. कंपनी का कहना है कि इससे वह अधिक सुरक्षित और फ्यूल एफिसिएंट वाहन पेश कर पाएगी.

रमन ने कहा, ‘हम प्लेटफार्म रणनीति पर काम कर रहे हैं. उनको तर्कसंगत बना रहे हैं जिससे बेहतर ईंधन दक्षता और बेहतर प्रदर्शन के जरिए ग्राहकों को अच्छा मूल्य उपलब्ध कराया जा सके.'

एमिशन कटौती की कोशिशों के बारे में पूछे जाने पर कंपनी ने कहा कि उसने अपनी सभी गाड़ियों में औसतन कार्बन उत्सर्जन लगभग 19 फीसदी तक घटाया है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi