S M L

बदलने वाला है मैगी का स्वाद, नूडल्स से नमक कम करेगा नेस्ले

भारत में हर साल करीब 2.5 अरब मैगी मसाला नूडल्स की बिक्री होती है

FP Staff | Published On: May 31, 2017 08:48 AM IST | Updated On: May 31, 2017 12:50 PM IST

बदलने वाला है मैगी का स्वाद, नूडल्स से नमक कम करेगा नेस्ले

आपकी मैगी का स्वाद बदलने वाला है. आपकी मैगी में नमक कम होने वाला है. नेस्ले इंडिया ने फैसला किया है कि मैगी को और हेल्दी बनाने के लिए इसमें आयरन की मात्रा बढ़ाई जाएगी और नमक कम किया जाएगा. मैगी नूडल्स के अलावा मैगी सूप और सीजनिंग जैसे प्रोडक्ट्स में भी ये बदलाव किए जाएंगे.

लाइवमिंट के अनुसार, नई मैगी अगले कुछ हफ्तों में बाजार में आ जाएगी. इसके साथ पुरानी मैगी आनी बंद हो जाएगी. हालांकि मसाला नूडल्स और दूसरे प्रॉडक्ट्स के दाम में कोई बदलाव नहीं होगा.

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, नेस्ले ने फैसला किया है कि वह मैगी से जुड़े सभी प्रॉडक्ट्स से 2020 तक 10 फीसदी तक नमक कम करेगा.

दरअसल, नेस्ले दुनियाभर में अपने प्रॉडक्ट्स से सोडियम, सैचुरेटेड फैट्स और सुगर कम कर रहा है. कंपनी का कहना है कि वह लंबे समय से इस प्रयास में है और पिछले 10 साल में मैगी में सोडियम 32.7 फीसदी कम किया गया है.

भारत में नेस्ले मैगी में आयरन बढ़ा रहा है. यह किसी आम आदमी के लिए दिन भर में जरूरी आयरन की मात्रा की 15 फीसदी होगा.

भारत में नेस्ले हर साल करीब 2.5 अरब मैगी मसाला नूडल्स की बिक्री करता है.

फिलहाल 100 ग्राम मैगी में 1.3 ग्राम सोडियम होता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) आम वयस्कों के लिए एक दिन में 5 ग्राम से अधिक नमक नहीं खाने की सलाह देता है. इससे अधिक नमक के उपयोग से उच्च रक्तचाप और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है.

कंपनी का यह फैसला ऐसे समय में आया है जब भारत में लोगों की हेल्दी और ऑर्गेनिक खाने में रुचि लगातार बढ़ रही है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi