विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

लखनऊ मेट्रो: 1 घंटे फंसे 500 यात्री, इमरजेंसी डोर से निकाले गए

लखनऊ मेट्रो अपने पहले ही सफर में टेक्निकल फाल्ट का शिकार हो गई, जिसकी वजह से यात्रियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा

FP Staff Updated On: Sep 06, 2017 02:03 PM IST

0
लखनऊ मेट्रो: 1 घंटे फंसे 500 यात्री, इमरजेंसी डोर से निकाले गए

लखनऊ मेट्रो अपने पहले ही सफर में टेक्निकल फाल्ट का शिकार हो गई, जिसकी वजह से यात्रियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. करीब 500 यात्री मेट्रो में फंस गए. चारबाग से ट्रांसपोर्टनगर के लिए जा रही लखनऊ मेट्रो दुर्गापुरी और मैवाया स्टेशन के बीच तकनीकी खराबी की वजह से 25 मिनट से ज्यादा रुकी रही. दरअसल 6.38 मिनट पर मेट्रो मवैया स्टेशन पर रुक गई. बताया जा रहा है कि ट्रेक्शन मोटर में खराबी की वजह से कॉल अटेंड नहीं हो पा रही थी.

दुर्गापुरी स्टेशन पर भी मेट्रो 25 मिनट तक रुकी रही. जिस कारण खासतौर पर स्कूल जाने वालों बच्चों को दिक्कत का सामना करना पड़ा. इसके बाद जब मेट्रो आलमबाग स्टेशन पहुंची तो अचानक इमरजेंसी ब्रेक लगने से रुक गई. इस दौरान ट्रेन 45 मिनट तक रुकी रही. वहीं मौके पर पहुंचे लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन और आलस्टोम के कर्मचारियों ने इमरजेंसी दरवाजे से यात्रियों को बाहर निकाला.

ख़राब हुई मेट्रो को दूसरी मेट्रो से खिंचवाकर वर्कशॉप के लिए रवाना किया गया. एलएमआरसी का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. किसी तकनीकी खराबी या यात्री की वजह से इमरजेंसी ब्रेक लग सकता है. इसके अलावा मेट्रो ने दावा किया था कि हर 7 मिनट में एक मेट्रो ट्रेन स्टेशन पर आएगी, जबकि पहले दिन यात्रियों को ट्रेन के लिए 15 से 20 मिनट तक इंतजार करना पड़ा.

बता दें 5 सितंबर को दोपहर 2 बजे सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाईक, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, मोदी सरकार के मंत्री हरदीप पुरी ने हरी झंडी दिखा कर लखनऊ मेट्रो का शुभारंभ किया था. बुधवार सुबह 6 बजे से लखनऊ मेट्रो आम लोगों के लिए शुरू हो गई. लखनऊ मेट्रो में पहले सफ़र को लेकर लोगों काफी उत्साह देखने को मिला. भारी संख्या में लोग पहले सफर का गवाह बनने के लिए मेट्रो में सफर करने पहुंचे. हालांकि तकनीकी खराबी की वजह से उन्हें कुछ दिक्कतों का भी सामना करना पड़ा.

(सभार न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi