विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

दिल्ली: ट्रैफिक पुलिस ने हर दिन काटे 11 हजार चालान, लगभग 203 करोड़ वसूला जुर्माना

आरटीआई के तहत ट्रैफिक पुलिस से 2014, 2015, और 2016 में कुल काटे गए चालानों और जब्त वाहनों की संख्या का डिटेल मांगा गया था

Bhasha Updated On: Sep 10, 2017 04:29 PM IST

0
दिल्ली: ट्रैफिक पुलिस ने हर दिन काटे 11 हजार चालान, लगभग 203 करोड़ वसूला जुर्माना

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने पिछले तीन साल के दौरान हर दिन औसतन 11 हजार चालान काटे हैं. सबसे ज्यादा चालान सिग्नल तोड़ने, गलत तरीके से पार्किंग करने और बिना हेलमेट पहने गाड़ी चलाने के लिए किए गए. ट्रैफिक पुलिस ने इस दौरान चालान से 202.46 करोड़ रुपए से अधिक का जुर्माना वसूला. यातायात पुलिस ने 2015 और 2016 में किराए का चार्ट नहीं रखने या मीटर खराब होने को लेकर केवल सात चालान किए हैं.

एक आरटीआई के जवाब के मुताबिक ट्रैफिक पुलिस ने साल 2014, 2015 और 2016 में 1.18 करोड़ से ज्यादा चालान किए. पुलिस ने इस दौरान 202.2 करोड़ रुपए से अधिक का जुर्माना वसूला. इसके अलावा, ट्रैफिक पुलिस ने पिछले तीन साल में डेढ़ लाख से ज्यादा गाड़ियों को भी जब्त किया है.

दिल्ली में एक करोड़ से ज्यादा वाहनों पर पुलिस ने हर दिन औसतन लगभग 11 हजार चालान किए, जबकि मुंबई में तकरीबन 30 लाख वाहनों पर पुलिस ने हर दिन लगभग 5200 चालान काटे.

दिल्ली के वकील युसूफ नकी ने सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के तहत ट्रैफिक पुलिस से साल 2014, 2015, और 2016 में कुल काटे गए चालानों और जब्त किए गए वाहनों की संख्या का डिटेल मांगा था.

आरटीआई के जवाब में ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि उसने 2016 में कुल 40,25,314 चालान किए जिसमें से 37,28,739 नकद चालान काटे. इससे उसे 66,89,28000 रुपए मिले, जबकि 2,96,575 कोर्ट चालान किए.

ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि 2015 में पुलिस ने कुल 34,11,256 चालान किए. इसमें से 30,68,793 चालान कैश और 3,42,463 कोर्ट चालान किए गए. उस साल पुलिस को कैश चालान से 64,53,20,400 रुपए की कमाई हुई.

Delhi Traffic

दिल्ली की सड़कों पर एक करोड़ से अधिक रजिस्टर्ड वाहन हैं

चालान से 202.46 करोड़ रुपए से अधिक का जुर्माना वसूला

उन्होंने बताया कि सबसे अधिक चालान साल 2014 में किए गए. पुलिस ने उस साल कुल 43,67,793 चालान किए. इसमें से 40,33,577 नकद चालान काटे जिससे उसे 71,049,7500 रुपए मिले, जबकि 3,34,216 कोर्ट चालान काटे.

आरटीआई के जवाब में पुलिस ने बताया कि 2016 में सबसे ज्यादा चालान 8,88,941 बिना हेलमेट पहने वाहन चलाने को लेकर किए गए. जबकि सबसे कम मात्र छह किराए का चार्ट नहीं होने / मीटर खराब होने को लेकर किए गए.

इसी तरह से 2015 में सबसे ज्यादा 5,64,269 गलत पार्किंग को लेकर किए गए, जबकि किराए का चार्ट नहीं होने/मीटर में खराबी को लेकर मात्र एक चालान किया गया. 2014 में सबसे ज्यादा 8,94,527 चालान यातायात सिग्नल के उल्लंघन को लेकर किए, जबकि कलर लाइट के इस्तेमाल को लेकर 10 चालान किए गए.

आरटीआई के मुताबिक, इसके अलावा, ट्रैफिक पुलिस ने 1,66,367 वाहनों को भी जब्त किया. पुलिस ने 2016 में 49,132 वाहनों को जब्त किया तो 2015 में 51,786 और 2014 में 65,449 गाड़ियों को जब्त किया.

ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि कैश चालान से मिली राशि को दिल्ली सरकार के खाते में जमा कराया जाता है.

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, 25 मई, 2017 तक दिल्ली में 1,05,67,712 वाहन रजिस्टर्ड हुए थे. इसमें 66,48,730 दो पहिया वाहन हैं जबकि 31,72,842 कारें हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi