S M L

कोच्चि मेट्रो क्यों सबसे अलग है, जानें 10 बड़ी बातें

पहले चरण में अलुवा से पलारीवट्टम के बीच 13 किमी लंबे मार्ग में यह मेट्रो चलेगी

FP Staff Updated On: Jun 17, 2017 11:31 AM IST

0
कोच्चि मेट्रो क्यों सबसे अलग है, जानें 10 बड़ी बातें

कोच्चि मेट्रो का शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उद्घाटन करेंगे. इस दौरान वह इससे यात्रा भी करेंगे. पहले चरण में अलुवा से पलारीवट्टम के बीच 13 किमी लंबे मार्ग में यह मेट्रो चलेगी. कार्यक्रम के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह 10.15 बजे कोच्चि पहुंचेंगे.

यह मेट्रो दिल्ली मेट्रो से काफी अलग है और इसमें टेक्नॉलजी का काफी प्रयोग किया गया है. मेट्रो मैन ई श्रीधरन ने इसे विशेष तरह का रूप दिया है.

आइए जानते हैं इसके महत्वपूर्ण प्वाइंट

1. कोच्चि के पलारिवट्टम से अलुवा के बीच 13 किमी के सफर में 11 स्टेशन बने हैं. मेट्रो के फर्स्ट फेज का सबसे लंबा रूट है, जिसका उद्घाटन होगा.

2. पलारिवट्टम से अलुवा के बीच का सफर रोड ट्रांसपोर्ट से 45 मिनट में तय होता है. मेट्रो से यह दूरी 23 मिनट में तय हो जाएगी.

3. कोच्चि मेट्रो भारत का पहला मेट्रो है, जहां संचार आधारित ट्रेन नियंत्रण प्रौद्योगिकी का प्रयोग किया गया है.

4. इस रूट में हर स्टेशन एक यूनिक शोकेस में हैं. इसमें समुद्री इतिहास, पश्चिमी घाट के साथ क्षेत्रीय इतिहास और दूसरी चीजों का उल्लेख किया गया है.

5. हर स्टेशन में सोलर पैनल का इस्तेमाल किया गया है. इससे वहां यूज होने वाली बिजली का 35 प्रतिशत प्रोड्यूस करने का लक्ष्य रखा गया है.

6. कोच्चि मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने स्टेशन पर ट्रांसजेडर की भी नियुक्तिी का फैसला लिया है.

7. कोच्चि मेट्रो स्टेशन का काम साल 2013 में शुरू हुआ था. इसका काम दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन को मिला था. मेट्रो मैन ई श्रीधरन इस प्रोजेक्ट के एजवाइजर हैं.

8. कोच्चि मेट्रो की वेबसाइट के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट का मूल्य 5180 करोड़ है

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi