विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

यौन शोषण केस: राम रहीम के समर्थकों ने जुटाए हथियार, हरियाणा में धारा 144 लागू

डेरा प्रेमियों के तेवर हुए आक्रामक कहा - जान दे देंगे, पर डेरामुखी को एक आंच तक नहीं आने देंगे

FP Staff Updated On: Aug 23, 2017 01:22 PM IST

0
यौन शोषण केस: राम रहीम के समर्थकों ने जुटाए हथियार, हरियाणा में धारा 144 लागू

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम सिंह की पेशी को लेकर प्रशासन पूरी तरह से सतर्क दिखाई दे रहा है. बताया जा रहा है कि उनके समर्थकों ने हथियार भी जुटाए हैं. वहीं पूरे हरियाणा में धारा 144 लागू कर दी गई है और सुरक्षाबलों ने फ्लैग मार्च भी निकाला है. डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम पर एक साध्वी ने यौन शोषण का आरोप लगाया है, जिस पर पंचकूला की सीबीआई की विशेष अदालत 25 अगस्त को अपना फैसला सुनाएगी. फैसले के मद्देनजर पंचकूला छावनी बना हुआ है.

इस मामले में हाई अलर्ट के चलते जीरकपुर में भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई. बसों व अन्य वाहनों में भरकर आए डेरा प्रेमियों को जीरकपुर पुलिस ने पंचकूला की तरफ जाने वाली चौक पर रोक लिया और उनकी बसों को वापिस भेज दिया. कुछ बसों को वहीं जीरकपुर में ही खाली करवा दिया. लेकिन पुलिस के इतने पुख्ता इंतजाम होने के बावजूद भी डेरा प्रेमी पैदल ही पंचकूला की तरफ चल पड़े.

पुलिस की तरफ से बस में सवार लोगों से पूछताछ भी की गई लेकिन किसी ने भी अपने डेरा प्रेमी होने का नहीं बताया और ना ही यहां आने का सही मकसद बताया. लेकिन इसके बावजूद भी पुलिस ने सतर्कता दिखाते हुए उनका सामान भी चेक किया और हाथ में पकड़े हुए छाता भी अपने पास रखवा लिए. पुलिस का मानना था कि छाता को हथियार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है.

आपको बता दें कि पंजाब के पटियाला, संगरूर, बठिंडा, और मानसा इलाकों से डेरा प्रेमियों के पंचकूला जाने के लिए वाया जीरकपुर ही एक मुख्य रास्ता है. लेकिन पुलिस के इतने पुख्ता इंतजाम होने के बाद भी डेरा प्रेमी काफी बड़ी संख्या में पंचकूला पहुंच चुके हैं जबकि कोर्ट का फैसला आने में अभी 2 दिन बाकी हैं.

पंचकूला के सेक्टर 23 स्थित नामचर्चा घर में करीब 10 हजार से ज्यादा डेरा समर्थकों के एकत्रित हो चुके हैं. वहीं पंजाब और हरियाणा के अन्य जिलों से डेरा समर्थक पंचकूला में एंट्री कर रहे हैं. वहीं पुलिस ने जगह-जगह पर नाके लगाए हुए हैं. कई नाकों पर डेरा समर्थक पुलिस के साथ बहस करते भी दिखे.

नामचर्चा घर में जुट रहे डेरा प्रेमी

मंगलवार को भारी संख्या में डेरा समर्थक पंचकूला स्थित नामचर्चा घर में जुट गए. डेरा समर्थकों ने बताया कि वो किसी बवाल के लिए यहां एकत्रित नहीं हुए हैं वो तो सिर्फ डेरा प्रमुख के दर्शन के लिए यहां एकत्रित हुए हैं. उनका कहना है कि संत राम रहीम ने हमेशा जनता की भलाई का काम किया है और वो अपने अनुयायियों को भी जनता की भलाई की ही प्रेरणा देते हैं.

डेरा समर्थकों और पुलिस के बीच हुई बहस

हजारों डेरा समर्थक, कई नाकों  में पुलिस और डेरा समर्थकों के बीच सामान और छतरिया ले जाने को लेकर बहस भी हुई. पुलिस द्वारा डेरा समर्थकों से आपत्तिजनक सामान अंदर ले जाने से मना किया जा रहा है.

स्टेडियम को बनाया टेम्परेरी जेल

वहीं इस फैसले को लेकर प्रशासन ने भी अलर्ट जारी किया है. इसके मद्देनजर चंडीगढ़ सेक्टर 16 स्थित क्रिकेट स्टेडियम को 25 अगस्त के लिए टेम्परेरी जेल बनाया गया है.वहीं पूरे प्रदेश में धारा 144 लगा दी गई है.

सीएम ने बैठक में लिया जायजा

चंडीगढ़ में मंगलवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सीएस, डीजीपी और गृह सचिव के साथ हाई स्तर पर बैठक की और स्थिति का जायजा लिया. इस दौरान सीएम ने कहा कि सिरसा डेरा प्रमुख ने सरकार को 25 अगस्त को कोर्ट में उपस्थिति दर्ज करवाने का भरोसा दिया है. इसके साथ ही सीएम मनोहर लाल और कैप्टन अभिमन्यु ने प्रदेश में शांति बनाए रखने की अपील की है.

अर्ध सैनिक बलों ने संभाल रखा है मोर्चा

साध्वी यौन शोषण के फैसले को लेकर खुफिया एजेंसियों ने सरकार को भेजी रिपोर्ट के बाद से ही हरियाणा औऱ पंजाब सरकरा ने प्रदेश में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती कर दी है. सिरसा में डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय है इसलिए यहां पर सुरक्षा के काफी कड़े प्रबंध किए गए हैं.

(न्यूज18 के इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi