विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

हनीप्रीत के बाद विपासना इंसां भी पुलिस के लिए क्यों बन गई है अबूझ पहेली?

हरियाणा पुलिस को लगता है कि विपासना राम रहीम के राजों को जानते हुए भी अंजान बन रही है

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Oct 17, 2017 10:05 PM IST

0
हनीप्रीत के बाद विपासना इंसां भी पुलिस के लिए क्यों बन गई है अबूझ पहेली?

हनीप्रीत के दिल में दफन एक-एक राज से जैसे-जैसे हरियाणा पुलिस पर्दा उठा रही है, वैसे-वैसे डेरे के और लोगों पर भी पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है.

साध्वियों के साथ रेप के आरोप में सजा कटा रहे बाबा राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत और डेरे की चेयरपर्सन विपासना इंसां ही अब राम रहीम के लिए परेशानी का कारण बन गई है.

हरियाणा पुलिस ने पिछले दिनों काफी मशक्कतों के बाद हनीप्रीत को गिरफ्तार किया था. कुछ दिन बाद हनीप्रीत के तिलिस्मी सूटकेस को भी हरियाणा पुलिस ने खोज निकाला.

जांच एजेंसियों के मुताबिक इसी सूटकेस में बाबा राम रहीम और हनीप्रीत के कई राज दफन हैं. इस सूटकेस में हनीप्रीत के पास अरबों रुपए की बेनामी संपत्तियों के कागजात बरामद हुए हैं.

विपासना भी शक के घेरे में

हरियाणा पुलिस को जो सूटकेस बरामद हुए हैं उसमें दर्जनों जमीन और मकानों की रजिस्ट्रियां भी मिली है. यह संपत्ति दिल्ली, मुंबई, हिमाचल प्रदेश और पंजाब के विभिन्न शहरों में हैं. हरियाणा पुलिस हनीप्रीत के पास से बरामद दस्तावेजों की बारीकी से अध्ययन में जुट गई है.

हरियाणा पुलिस अब हनीप्रीत के जरिए डेरा सच्चा सौदा की चेयरपर्सन विपासना पर भी शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है. बाबा राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद कई दस्तावेजों और फाइलों को नष्ट करने के पुख्ता प्रमाण मिलने के बाद विपासना भी अब शक के घेरे में है.

Panchkula: Honeypreet was arrested from the Zirkapur-Patiala highway in Punjab while travelling in a Toyota Innova, at Haryana Police Station on Tuesday night. PTI Photo (PTI10_3_2017_000207B)

हनीप्रीत और विपासना के साथ क्रॉस चेकिंग में लैपटॉप से कुछ डिलीट किए फाइल फिर से रिकवर करने के बाद पुलिस इस नतीजे पर पहुंची है.

हरियाणा पुलिस को राजस्थान में डेरा प्रमुख के पैतृक गांव से भी जो दस्तावेज बरामद हुए हैं उसमें करोड़ों रुपए के लेने-देन की बात सामने आ रही है.

हनीप्रीत पर शिकंजा कसने के बाद जांच एजेंसियां डेरा सच्चा सौदा की चेयरपर्सन विपासना पर फोकस किया है. हरियाणा पुलिस विपासना से लगातार पूछताछ कर रही है. विपासना स्वास्थ्य खराब होने की बात कह कर लगातार जांच एजेंसियों को गुमराह कर रही है.

यह भी पढ़ें: आरुषि-हेमराज मर्डर: जांच को ताक पर रखकर कहानियां सुनाती रही CBI

हनीप्रीत और विपासना की एक साथ पूछताछ के बाद यह बात सामने आई थी कि हनीप्रीत ने भागने से पहले अपना मोबाइल और कुछ कागजात विपासना को सौंप दिए थे.

दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर यह दावा किया जा रहा है कि विपासना इंसां ने डेरे से जुड़े सारे राज उगल दिए हैं. सोशल मीडिया पर यह दावा किया जा रहा है कि पुलिस की पूछताछ के दौरान हनीप्रीत और विपासना में जम कर लड़ाई हुई. हनीप्रीत और विपासना बहाने बनाती रही.

लेकिन, एसआईटी की लंबी पूछताछ के बाद विपासना ने हनीप्रीत के द्वारा किसी भी कागजात सौंपे जाने से साफ इंकार करते हुए अनभिज्ञता जाहिर की थी.

Gurmeet Ram Rahim Honeypreet

एसआईटी को उलझा रही है विपासना

हरियाणा पुलिस की एसआईटी कई सवालों का जवाब जानने के लिए विपासना से लगातार पूछताछ करना चाहती है, लेकिन विपासना हर सवाल को पहेली बना कर हरियाणा पुलिस को ही उलझाए रखा है.

हरियाणा पुलिस गायब लैपटॉप और डायरी के अलावा डेरा की कई बेनामी संपत्तियों से जुड़े कई राज पर पर्दा उठाना चाह रही है. हरियाणा पुलिस को लगता है कि विपासना इन राज को जानते हुए भी अंजान बन रही है.

हरियाणा पुलिस अब 25 अगस्त को भड़की हिंसा और दूसरे लोगों पर दर्ज देशद्रोह के मुकदमों से हटकर डेरा की बेनामी संपत्ति पर फोकस करना शुरू कर दिया है.

हनीप्रीत के सूटकेस से बरामद गुरमीत सिंह राम रहीम के फर्जी पासपोर्ट के बारे में भी हरियाणा पुलिस विपासना से पूछताछ करना चाह रही है. गुरमीत सिंह राम रहीम के पास अब तक तीन पासपोर्ट होने की बात सामने आई है.

हनीप्रीत के बाद विपासना इंसा भी हरियाणा पुलिस के लिए सिरदर्द का कारण बन गई है. हरियाणा पुलिस जल्द ही विपासना को लेकर सख्त रुख अख्तियार कर सकती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi