S M L

कश्मीर: पुलिस को मिलेगी बुलेट प्रूफ गाड़ी, सीआरपीएफ को मिल सकती है हेलीकॉप्टर सेवा

चार दिन के दौरे पर जम्मू-कश्मीर आए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ये घोषणाएं की

Bhasha Updated On: Sep 10, 2017 05:54 PM IST

0
कश्मीर: पुलिस को मिलेगी बुलेट प्रूफ गाड़ी, सीआरपीएफ को मिल सकती है हेलीकॉप्टर सेवा

केन्द्र जम्मू कश्मीर में तैनात सीआरपीएफ के जवानों के आवागमन में मदद के लिए हेलीकॉप्टर सेवाएं संचालित करने पर विचार करेगा.

चार दिन के दौरे पर जम्मू कश्मीर आए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वह ड्यूटी निभाते हुए शहीद होने वाले केंद्रीय सैन्य पुलिस बल (सीएपीएफ) के जवानों के परिजन के लिए वित्तीय मुआवजा बढाकर एक करोड़ रुपए करने की दिशा में भी काम कर रहे हैं.

उन्होंने यहां से 52 किलोमीटर दूर अनंतनाग में सीआरपीएफ जवानों के एक सैनिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘हम अपने सीएपीएफ जवानों को और सुविधाएं देने को तैयार हैं. सरकार जम्मू कश्मीर में सीआरपीएफ के लिए हेलीकाप्टर सेवाओं पर विचार करेगी.’

उन्होंने सीआरपीएफ जवानों से कहा, ‘मेरा लक्ष्य सीएपीएफ के हमारे शहीदों के परिजनों के लिए कम से कम एक करोड़ रुपये उपलब्ध कराना है.’ वर्तमान मुआवजा नियमों के अनुसार, सीआरपीएफ, बीएसएफ,आईटीबीपी, सीआईएसएफ, एसएसबी, एनएसजी और असम राइफल्स जैसे सीएपीएफ के दिवंगत जवान के परिवार को करीब 60 से 70 लाख रुपए मिलते हैं.

सिंह ने कहा कि सरकार ने शहीदों के परिजन की मदद के लिए ‘भारत के वीर’ कार्यक्रम चलाया है.

उन्होंने कहा, ‘देश हमारे सुरक्षा बलों के साहस को प्रोत्साहित कर रहा है. हमें अपने सीआरपीएफ जवानों पर गर्व है. साहस किसी बाजार से नहीं खरीदा जा सकता और आप अदम्य और बेजोड़ साहस के साथ पैदा होते हैं.’ गृह मंत्री ने हाल में पुलवामा में अभियान चलाने वाली सीआरपीएफ टीम को स्मृति चिह्न भेंट किया.

जम्मू कश्मीर में पुलिसवालों को मिलेंगी बुलेटप्रूफ गाड़ियां

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर में पुलिसकर्मियों के लिये बुलेटप्रूफ वाहनों की खरीद के लिये रकम आवंटित की है. गृह मंत्री आज दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में पुलिसकर्मियों के साथ बातचीत कर रहे थे.

उन्होंने यह घोषणा 16 जून को अनंतनाग जिले के अचबल इलाके में एसएचओ फिरोज अहमद समेत छह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद की है. शहीद एसएचओ ने दक्षिण कश्मीर में आतंकवादियों के खतरे के मद्देनजर बुलेटप्रूफ वाहन का अनुरोध किया था, लेकिन उन्हें यह उपलब्ध नहीं कराया गया.

यहां से करीब 52 किलोमीटर दूर अनंतनाग में सिंह ने कहा, ‘हमनें जम्मू कश्मीर पुलिस के लिये बुलेटप्रूफ वाहनों की खरीद के वास्ते रकम आवंटित की है.’

गृह मंत्री ने यह भी कहा कि केंद्र ने पुलिसकर्मियों के लिए ट्रॉमा सेंटर खोलने के लिए भी कोष को मंजूरी दी है. उन्होंने घाटी में ‘बेहद चुनौती भरे हालात’ में काम करने के लिए पुलिसकर्मियों की प्रशंसा भी की.

उन्होंने हाल ही में दक्षिण कश्मीर में आतंकी हमले में शहीद हुए एएसआई अब्दुल रशीद और कांस्टेबल इम्तियाज को श्रद्धांजलि भी दी.

उन्होंने कहा, ‘कश्मीर के लिए सर्वोच्च बलिदान किया गया. हमें अपने पुलिसकर्मियों पर गर्व है. आप यहां बेहद चुनौती भरे हालात में काम कर रहे हैं. जम्मू कश्मीर पुलिस के अपने बहादुर साथियों की बहादुरी की सराहना करने के लिये मेरे पास शब्द नहीं हैं. यहां तक प्रधानमंत्री ने भी आपके साहस की प्रशंसा की.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi