S M L

डेरा में पढ़ रही लड़की अचानक हुई गायब, सलामती के लिए परिवार फिक्रमंद

परिवार ने दावा किया कि वो 2008 से श्रद्धा से संपर्क में नहीं थे. जब भी वो मिलने की कोशिश करते डेरा कर्मी उन्हें उससे मिलने नहीं देते थे

Bhasha Updated On: Sep 04, 2017 09:49 PM IST

0
डेरा में पढ़ रही लड़की अचानक हुई गायब, सलामती के लिए परिवार फिक्रमंद

सिरसा में डेरा सच्चा सौदा परिसर में रहकर पढ़ाई कर रही एक लड़की के परिवार वालों ने उसके गायब होने की शिकायत की है. हरियाणा के तिवाला में रहने वाले परिवार ने दावा किया कि वो 2008 से श्रद्धा से संपर्क में नहीं थे.

छात्रा के रिश्तेदार परिमंदर सिंह अपने परिचितों के साथ सिरसा में उसे तलाशने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि आखिरी बार उन्हें श्रद्धा के बारे में डेरा की तरफ से निकाली जाने वाली एक पत्रिका में जानकारी मिली थी. इसमें उसे एक योगाभ्यास करने वाला बताया गया था.

परमिंदर सिंह ने कहा, ‘साहे बेटियां बसेरा (नाबालिग लड़कियों के लिए आश्रय गृह) की संरक्षक पूनम ने कहा कि डेरा प्रमुख (गुरमीत राम रहीम) को दोषी ठहराए जाने के बाद श्रद्धा डेरा छोड़कर चली गई थी.’ उन्होंने बताया कि इसके बाद उन्होंने सच्चा सौदा के दूसरे पदाधिकारियों से भी संपर्क करने की कोशिश की.

28 अगस्त को पंचकूला की सीबीआई की विशेष अदालत ने दो महिला अनुयायियों से रेप के लिए राम रहीम को 20 साल की कैद की सजा सुनाई थी.

परमिंदर ने आरोप लगाया, ‘श्रद्धा को पढ़ाई के लिए लंबे समय पहले डेरा में डाल दिया गया था. 2008 में हमने उससे मिलने की कोशिश की लेकिन डेरा कर्मियों ने हमें मिलने नहीं दिया.’ उन्होंने कहा, ‘मैंने डेरा के पदाधिकारियों से उनके मोबाइल फोन पर संपर्क करने की कोशिश की लेकिन मैं नाकाम रहा.’

सिरसा के उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने पहले कहा था, ‘18 नाबालिग लड़कियों ने कहा कि वो डेरा के बसरे में रहकर खुश हैं और बाहर नहीं जाना चाहतीं. लेकिन हमने डेरा प्रबंधन को रजामंद किया और उनकी मदद से लड़कियों को बाहर लेकर आए.’ अधिकारियों ने बताया कि इन लड़कियों को सोनीपत समेत राज्य के अलग-अलग जगहों पर बाल सुधार गृहों में भेज दिया गया.

श्रद्धा के परिवार के जैसे ही दिल्ली में रहने वाले सुचेतना और अपार के परिवारवाले भी उनके लौटने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi