S M L

EVM विवाद: चुनाव आयोग का खुला चैलेंज, ईवीएम हैक करके दिखाओ

चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों को खुला चैलेंज देते हुए कहा, ईवीएम हैक नहीं हो सकती.

FP Staff | Published On: May 12, 2017 01:14 PM IST | Updated On: May 12, 2017 01:14 PM IST

EVM विवाद: चुनाव आयोग का खुला चैलेंज, ईवीएम हैक करके दिखाओ

ईवीएम मशीनों में हुई गड़बड़ियों के आरोपों के मद्देनजर चुनाव आयोग ने शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक की. इस बैठक में राष्ट्रीय स्तर की सात और प्रदेश स्तर की 48 राजनीतिक पार्टियों ने हिस्सा लिया और अपनी-अपनी शिकायतें और सुझाव लेकर पहुंचे. इनमें से 16 पार्टियों की मांग है कि चुनाव के लिए फिर से बैलेट पेपर का इस्तेमाल किया जाए.

इस बीच चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों को खुला चैलेंज देते हुए कहा कि ईवीएम हैक नहीं हो सकती है. चुनाव आयोग ने कहा है कि हम आपको दो दिन ईवीएम मशीन देंगे. आप अपने एक्सपर्ट्स लेकर आएं और अपना बेस्ट प्रूव करें.

वहीं बीजेपी विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि चुनाव आयोग ने दो दिन बाद सभी को बुलाया है. चुनाव आयोग ने सरकार के VVPAT के कदम का स्वागत किया और कहा कि ये 2019 में लागू होगा. इसके लिए फंड मिल गया है.

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी समेत कई राजनीतिक दलों ने चुनाव के दौरान ईवीएम मशीन में गड़बड़ी होने का आरोप लगाया था.

दरअसल ये सारा मामला उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के नतीजे सामने आने के बाद शुरू हुआ, जिसमें बीजेपी ने प्रचंड बहुमत हासिल किया था. चुनाव में करारी शिकस्त मिलने के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने सबसे पहले ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी होने की बात कही थी.

इसके बाद दिल्ली के एमसीडी चुनाव में भी बीजेपी की जीत पर आम आदमी पार्टी ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े किए थे.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi