विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

पाकिस्‍तान के पूर्व एनएसए ने दिया सनसनीखेज बयान: मुंबई हमले में पाकिस्तान का हाथ

19वीं एशियाई सुरक्षा कांफ्रेंस में पाकिस्तान के पूर्व सुरक्षा सलाहकार महमूद अली दुर्रानी ने किया खुलासा

FP Staff Updated On: Mar 06, 2017 04:10 PM IST

0
पाकिस्‍तान के पूर्व एनएसए ने दिया सनसनीखेज बयान: मुंबई हमले में पाकिस्तान का हाथ

26/11 के मुंबई हमले में पाकिस्तान की तरफ से एक अहम खुलासा हुआ है. पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार महमूद अली दुर्रानी ने कहा है कि साल 2008 में मुंबई का आतंकी हमला पाकिस्‍तान के एक आतंकी संगठन ने किया था.

कहां दिया बयान

दुर्रानी ने 19वीं एशियाई सुरक्षा कांफ्रेंस के दौरान यह बयान दिया. दुर्रानी ने कहा कि 26/11 मुंबई हमला सीमा पार आंतकवाद का क्‍लासिक उदाहरण है. उन्होंने कहा कि हाफिज सईद की कोई उपयोगिता नहीं है.

उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिफेंस एंड स्‍टडीज एंड एनालिसिस की ओर से आयोजित इस कांफ्रेंस में भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी मौजूद थे. इस कांफ्रेंस की थीम, ”कॉम्‍बेटिंग टेरेरिज्‍म: इवॉल्विंग एन एशियन रेस्‍पॉन्‍स’ है. पर्रिकर ने कहा कि भारत और अफगानिस्‍तान दशकों से छद्म युद्ध के शिकार हो रहे हैं. आतंकवाद अंतरराष्‍ट्रीय सुरक्षा के लिए चुनौती है.

मुंबई हमले का मास्टर माइंड कौन?

mumbaiattack

हाफिज सईद की मुंबई हमले का मास्‍टरमाइंड है. भारत लगातार सईद के खिलाफ कार्रवाई की मांग करता रहा है. लेकिन पाकिस्‍तान सबूतों के अभाव की दुहाई देकर ऐसा करने से बचता रहा है. 26 नवंबर 2008 को आतंकी हमले 166 लोगों की जान गई और सैंकड़ों अन्‍य घायल हो गए.

इस हमले में अजमल कसाब को जिंदा पकड़ा गया था. उसे चार साल बाद 21 नवंबर 2012 को फांसी दे दी गई थी. अमेरिका के दवाब में पाकिस्तान ने फिलहाल हाफिज सईद को नजरबंद कर रखा है.

30 जनवरी को सईद और उसके संगठन जमात उद दावा के चार अन्‍य नेताओं को भी नजरबंद किया था. इस बारे में पाकिस्‍तान की ओर से कहा गया था कि राष्‍ट्रहित में यह कदम उठाया गया है. 2008 में मुंबई हमलों के बाद भी हाफिज सईद को नजरबंद किया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi