S M L

नोटबंदी से अर्थव्यवस्था की रफ्तार सुस्त हो सकती है: एसबीआई

देश के सबसे बड़े बैंक ने कहा था, भारतीय अर्थव्यवस्था और बैंकिंग क्षेत्र पर नोटबंदी का दीर्घकालिक प्रभाव अनिश्चित है

Bhasha | Published On: Jun 11, 2017 10:08 PM IST | Updated On: Jun 11, 2017 10:08 PM IST

0
नोटबंदी से अर्थव्यवस्था की रफ्तार सुस्त हो सकती है: एसबीआई

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने आशंका जाहिर की है कि देश की अर्थव्यवस्था को धीमा करने और कारोबार पर विपरीत प्रभाव डालने पर नोटबंदी का असर बना रह सकता है.

आपको बता दें कि सरकार ने 8 नवंबर 2016 को 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को चलन से बाहर कर 500 और 2,000 रुपये के नए नोटों को शुरू किया था.

एसबीआई ने निजी नियोजन के माध्यम से 15,000 करोड़ रुपये जुटाने से पहले अपने सांस्थानिक निवेशकों को सूचना देने वाले दस्तावेज में कहा था कि भारतीय अर्थव्यवस्था और बैंकिंग क्षेत्र पर नोटबंदी का दीर्घकालिक प्रभाव अनिश्चित है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi