विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

गैस चेंबर बनी दिल्ली, लेकिन मुख्यमंत्रियों में अभी तक बात भी नहीं हुई

खट्टर ने कहा, ये चिंता का विषय है और हरियाणा सरकार इसे रोकने के लिए हर एक संभव कदम उठा रही है

FP Staff Updated On: Nov 09, 2017 11:57 AM IST

0
गैस चेंबर बनी दिल्ली, लेकिन मुख्यमंत्रियों में अभी तक बात भी नहीं हुई

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता इतनी खराब हो चुकी है कि देश की राजधानी 'गैस चेंबर' में तब्दील हो चुकी है. बेहिसाब ढंग से प्रदूषण का स्तर बढ़ने के पीछे की मुख्य वजह पंजाब और हरियाणा में पराली जलाने को माना जा रहा है. हालांकि इस मसले पर अभी तक दिल्ली के आसपास के राज्यों के मुख्यमंत्रियों की आपस में बातचीत तक नहीं हुई है.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बढ़ते प्रदूषण को लेकर चिंता व्यक्त की है. खट्टर ने कहा, ये चिंता का विषय है और हरियाणा सरकार इसे रोकने के लिए हर एक संभव कदम उठा रही है. हमने पराली जलाने वाले लोगों से ऐसा न करने को भी कहा है.

उन्होंने कहा कि हमने प्रदूषण से निपटने के लिए हरियाणा में उपयुक्त कदम उठाए हैं. अगर केंद्र या पंजाब हमसे इस बारे में बात करना चाहता है, तो हम इस पर चर्चा करने के लिए तैयार हैं.

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहर में बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए उठाए गए कदमों पर चर्चा के लिए पंजाब एवं हरियाणा के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करने की इच्छा जताई थी. केजरीवाल ने हरियाणा और पंजाब के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने कहा, पड़ोसी राज्यों की सरकारें किसानों को पराली जलाने के विकल्प मुहैया कराने में असफल रहीं हैं और इस कारण दिल्ली में वायु प्रदूषण बढ़ा है.

आपको बता दें कि दिल्ली में वायु की गुणवत्ता बुधवार को इस मौसम में सबसे खराब रही. पराली जलाने से पैदा हुए जहरीले धुएं और नमी के संयुक्त प्रभाव के कारण शहर गैस चैंबर में तब्दील हो गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi