विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

IAS अधिकारी से एक करोड़ की वसूली करते समय दंपत्ति गिरफ्तार

पुलिस आयुक्त ने बताया कि मोपलवार ने 31 अक्टूबर को मुंबई के एक पांच सितारा होटल में हुई इस बातचीत की वीडियो रिकॉर्डिंग कर ली थी

Bhasha Updated On: Nov 04, 2017 04:12 PM IST

0
IAS अधिकारी से एक करोड़ की वसूली करते समय दंपत्ति गिरफ्तार

ठाणे पुलिस की एंटी एक्सटॉर्शन यूनिट (AEC) ने डोम्बीवली इलाके में एक निजी जासूस और उसकी पत्नी को एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी से एक करोड़ रुपए की वसूली करते हुए रंगे हाथ पकड़ा है. इस आईएएस अधिकारी को इस साल की शुरुआत में भ्रष्टाचार के कथित मामले में जांच लंबित रहने तक छुट्टी पर भेज दिया गया था.

पुलिस के अनुसार शनिवार को गिरफ्तार किए गए इस दंपति ने अधिकारी राधेश्याम मोपलवार को धमकी दी थी कि वे उनकी तथाकथित फोन कॉल रिकॉर्डिंग को सार्वजनिक कर उन्हें बदनाम कर देंगे. उन्होंने टेप रिलीज न करने और अधिकारी के खिलाफ भ्रष्टाचार के अपने आरोप वापस लेने के लिए कथित तौर पर सात करोड़ रुपए की मांग की थी. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पिछले अगस्त में ऑडियो क्लिप विवाद के बाद मोपलवार को महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास निगम के उपाध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक पद से हटा दिया था.

10 करोड़ रुपए की मांग की थी

ऑडियो क्लिप में मोपलवार को कथित तौर पर एक प्लॉट के लिए सौदा करते सुना गया था. ठाणे पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने कहा, ‘निजी जासूस सतीश मंगले और उसकी पत्नी श्रद्धा को पुलिस की एंटी एक्सटॉर्शन इकाई के अधिकारियों ने डोंबिवली स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया.’ सिंह ने बताया, 'पुलिस ने उनके घर से दो लैपटॉप, पांच मोबाइल फोन, चार पैन ड्राइव, 15 सीडी और उसे दोषी ठहरा सकने वाले कुछ दस्तावेज बरामद किए हैं.'

उन्होंने बताया, 'पहले उन्होंने 10 करोड़ रुपए की मांग की थी और बाद में वे सात करोड़ रुपए लेने पर सहमत हो गए. मंगले ने मोपलवार को धमकी दी थी कि अगर धन नहीं दिया गया तो उन्हें और उनकी बेटी को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे.' इससे पहले भी मंगले दो बार मोपलवार को धमकी दे चुका था कि वह अरुण गावली गिरोह और अन्य संगठित अपराध गिरोहों में लोगों को जानता है.

पुलिस आयुक्त ने बताया कि मोपलवार ने 31 अक्टूबर को मुंबई के एक पांच सितारा होटल में हुई इस बातचीत की वीडियो रिकॉर्डिंग कर ली थी. इसके बाद मोपलवार ने इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई थी.

उन्होंने बताया कि वीडियो और अन्य साक्ष्यों का अध्ययन करने के बाद मंगले को रंगे हाथों गिरफ्तार करने के लिए जाल बिछाया गया. 'सादी वर्दी में एक पुलिसकर्मी को रंगदारी की किश्त के रूप में एक करोड़ रुपए लेकर मंगले के डोंबिवली स्थित घर भेजा गया. मंगले और उसकी पत्नी को यह नकदी लेते समय गिरफ्तार कर लिया गया.' साथ ही उन्होंने कहा, 'हम इनके दो साथियों की भी तलाश कर रहे हैं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi