S M L

दिल्ली एयरपोर्ट की सुरक्षा लॉस एंजेलिस एयरपोर्ट से भी बेहतर

सीआईएसएफ को दिल्ली एयरपोर्ट पर बेहतर सुरक्षा देने के लिए वर्ल्ड क्वालिटी कांग्रेस ने बेस्ट एयरपोर्ट सुरक्षा घोषित किया है

FP Staff | Published On: Jul 02, 2017 07:14 PM IST | Updated On: Jul 02, 2017 07:21 PM IST

0
दिल्ली एयरपोर्ट की सुरक्षा लॉस एंजेलिस एयरपोर्ट से भी बेहतर

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल को दिल्ली एयरपोर्ट पर बेहतर सुरक्षा देने के लिए वर्ल्ड क्वालिटी कांग्रेस ने बेस्ट एयरपोर्ट सुरक्षा घोषित किया है. बेहतर औद्योगिक सुरक्षा के लिए इंफोसिस, विप्रो, एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक की सुरक्षा का नाम आता है. इस घोषणा के बाद एक बार फिर साबित हो गया सीआईएसएफ की सुरक्षा इन सभी संस्थानों को मिलने वाली प्राईवेट सुरक्षा से भी बहुत बेहतर है.

यह पहली बार है जब किसी सरकारी सुरक्षा संस्था को वर्ल्ड क्वालिटी संस्था ने उसके मानकों और व्यावसायिकता के लिए नवाजा है. हर साल आईजीआई एयरपोर्ट से 56 मिलियन यात्री सफर करते हैं. ऐसे में यात्रियों की सुरक्षा बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है. इससे पहले डबल्यू.क्यू.सी ने सिर्फ प्राईवेट कंपनियों को वर्ल्ड क्लास स्टैंडर्ड क्वालिटी सर्विस के लिए सम्मानित किया है. यह पहली बार है जब किसी भारतीय सरकारी संस्था का नाम इस सूची में शामिल हुआ है.

सीआईएसएफ को यह अवॉर्ड 6 जुलाई को मुंबई के ताज लैंड एंड में दिया जाएगा. इस दिन डबल्यू. क्यू. सी का एनुअल इवेंट होता है. जिसमें सीआईएसएफ को भी उसके बेहतर योगदान के लिए सम्मानित किया जाएगा.

तीन महीने पहले अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट सर्विस क्वालिटी ने दिल्ली एयरपोर्ट की सुरक्षा को हीथ्रो, लॉस एंजेलिस, दुबई और पेरिस एयरपोर्ट से भी बेहतर बताया था.

करीब 4,000 सीआईएसएफ के ट्रेंड जवान हर समय दिल्ली एयरपोर्ट के घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय टर्मिनल पर तैनात रहते हैं. जरूरत पड़ने पर इनकी संख्या बढ़ा दी जाती है.

A soldier from the Central Industrial Security Force which is in charge of airport security, keeps watch at the international airport in New Delhi

प्राइवेट कंपनियों को भी सुरक्षा देती है सीआईएसएफ

दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता जैसे एयरपोर्ट की सुरक्षा एक बड़ी जिम्मेदारी होती है. इस्लामिक स्टेट, लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों से कई बार बॉम्बिंग और हाईजैकिंग की धमकी मिलती रहती है. इतना ही नहीं इन एयरपोर्ट पर ड्रग्स/ प्रतिबंधित चीजों की स्मगलिंग भी सुरक्षा एजेंसियों के लिए बड़ी चुनौती होती है.

सीआईएसएफ के जिम्मे एयरपोर्ट और मैट्रो जैसे संस्थानों की सुरक्षा होती है. वहीं यात्रियों, सांसदों, मंत्रियों और विदेशी प्रतिनिधियों की सुरक्षा भी सीआईएसएफ देखती है.

कुछ प्राइवेट कंपनियों को भी सीआईएसएफ सुरक्षा देती है. जिसमें टाटा, इंफोसिस, रिलाइंस जैसी बड़ी कंपनियों के नाम शामिल हैं. बड़ी संख्या में दूसरे इंस्टीट्यूट, कॉलेज, स्कूल, बिजनेस घरानों आदि को भी सीआईएसएफ सुरक्षा देती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi