S M L

KBC की हॉटसीट पर बैठना डिप्टी कलेक्टर के लिए साबित हुई टेढ़ी खीर

डिप्टी कलेक्टर अनुराधा अग्रवाल बीस सितंबर को केबीसी की हॉटसीट पर अमिताभ बच्चन के साथ नजर आएंगी

FP Staff Updated On: Sep 12, 2017 05:41 PM IST

0
KBC की हॉटसीट पर बैठना डिप्टी कलेक्टर के लिए साबित हुई टेढ़ी खीर

छत्तीसगढ़ के मुंगेली में पदस्थ ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर अनुराधा अग्रवाल 20 सितंबर को केबीसी (कौन बनेगा करोड़पति) की हॉट सीट पर महानायक अमिताभ बच्चन के साथ नजर आएंगी.

आपको जानकर हैरानी होगी कि इस दिव्यांग डिप्टी कलेक्टर को काफी मुसीबतों के बाद इस शो में शामिल होने की अनुमति मिली है.

डिप्टी कलेक्टर अनुराधा का किसमें हुआ चयन

दरअसल ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर अनुराधा अग्रवाल का चयन सोनी टीवी पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम केबीसी के लिए हुआ है. भोपाल में आॅडिशन के बाद उन्हें शो की शूटिंग के लिए मुंबई बुलाया गया.

अनुराधा के मुताबिक उन्होंने मुंगेली कलेक्टर और बिलासपुर संभागायुक्त के जरिए राज्य सरकार से अनुमति मांगी थीं, लेकिन सरकार से समय पर पत्र नहीं मिलने के कारण वे कलेक्टर से छुट्टी लेकर मुंबई चली गईं.

ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर अनुराधा का भाई राजेश किडनी की बीमारी से ग्रसित है. अनुराधा की इच्छा है कि केबीसी में जीती राशि से वे अपने भाई का इलाज कराएंगीं.

अनुराधा की मुसीबतों की कब हुई शुरुआत

अनुराधा खुद भी दिव्यांग हैं और वॉकर के सहारे चलती हैं. केबीसी में शूटिंग में जाने से पहले ही अनुराधा की मुसीबतें शुरू हो गईं. मिली जानकारी अनुसार शूटिंग से एक दिन पहले 20 अगस्त को अनुराधा की मां का निधन हो गया. फिर भी घर वालों के सुझाव पर वे शूटिंग के लिए गईं.

अनुराधा की मुसीबत यहीं नहीं थमीं. जब वे शूटिंग से लौटीं तो छत्तीसगढ़ शासन के सामान्य प्रशासन विभाग के उप सचिव ने पत्र लिख कर अनुराधा को बताया कि केबीसी में भाग लेने की अनुमति वाले उनके आवेदन को अमान्य कर दिया गया है.

ये पत्र सार्वजनिक होने के बाद से प्रदेश की राजनीति गर्माने लगी. विपक्ष ने सरकार को निशाने पर लिया. मीडिया में भी इस पत्र को लेकर सरकार की खूब किरकिरी हुई. इसके बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मामले को संज्ञान में लिया.

डॉ. रमन सिंह ने क्या दिए निर्देश

सोमवार 11 सितंबर को प्रदेश के मुखिया डॉ. रमन सिंह ने अनुराधा को शो में शामिल होने की अनुमति देने का निर्देश दिए. सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह को जैसे ही इस प्रकरण का पता चला, उन्होंने अफसरों को बुलाकर कहा कि ये विशेष मामला हैं.

सीएम डॉ. सिंह ने कहा कि अनुराधा अपने भाई के किडनी ट्रांसप्लांट के लिए केबीसी शो में जाकर रकम जीतना चाहती थीं. इसलिए उन्हें विशेष अनुमति दे दी जाए. सीएम के निर्देश के बाद मुंगेली कलेक्टर को सचिवालय से पत्र जारी कर दिया गया है.

सीएम से विशेष अनुमति मिलने के बाद अनुराधा ने राहत की सांस ली है. आपको बता दें कि बीस सितंबर को प्रसारित होने वाले शो में डिप्टी कलेक्टर अनुराधा ने 15 लाख रुपए जीते हैं.

(साभार: न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi