S M L

बीजेपी विधायक ने चलाया मोमोज के खिलाफ अभियान

मोमोज से कैंसर का खतरा बढ़ने के कारण जम्मू कश्मीर में इसकी बिक्री पर रोक लगाने की कोशिश

FP Staff | Published On: Jun 08, 2017 05:46 PM IST | Updated On: Jun 08, 2017 05:46 PM IST

बीजेपी विधायक ने चलाया मोमोज के खिलाफ अभियान

अगर आप जम्मू-कश्मीर में रहते हैं तो जल्द ही आपका पसंदीदा मोमोज आपसे दूर होने वाला है. बीजेपी के विधायक रमेश अरोड़ा अब मोमोज को बंद करवाना चाहते हैं. अरोड़ा जम्मू-कश्मीर से बीजेपी के विधान परिषद के सदस्य हैं.

मोमोज पर बैन क्यों जरूरी?

उनका कहना है कि मोमोज में मोनोसोडियम ग्लूटामेट या अजिनोमोटो होता है, जिससे कैंसर होता है. अरोड़ा मोमोज पर बैन के लिए अभियान चला रहे हैं.

 

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक अरोड़ा ने कहा कि मोमोज से कई बीमारियां होती हैं. इससे आंत का कैंसर भी होता हैं. विधायक का कहना है कि चाइनीज फूड में मोनोसोडियम ग्लूटामेट होता है. इसे अजिनोमोटो के नाम से बेचा जाता है. इसका इस्तेमाल स्वाद बढ़ाने में होता है.

क्या है अजिनोमोटो?

अजिनोमोटो एक तरह का सॉल्ट है, जो कैंसर समेत कई बीमारियों की वजह हैं. इतना ही नहीं, यह छोटे से दर्द को माइग्रेन भी बना सकती है. अरोड़ा ने कहा कि मोमोज खाने से मेमोरी लॉस और पेट का कैंसर होने का खतरा होता है.

शराब और ड्रग्स से भी खतरनाक है मोमोज 

हमने पाया है कि यह शराब और नशीली दवाओं से भी ज्यादा हानिकारक है। इसे लेकर उन्होंने हाल ही में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बली भगत से मुलाकात की और मोमोज और चीनी स्ट्रीट फूड पर रोक लगाने की मांग की है. नेताजी सुभाष चंद्र बोस कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट ने 2007 में एक रिचर्स के बाद बताया था कि अजिनोमोटो से पेट का कैंसर होता है. साल 2004 में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने भी इसे खतरनाक मान लिया था.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi