S M L

बीजेपी नेताओं के मंदिर में पूजा करने से उठा विवाद

तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर प्रदेश के सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने के प्रयास करने का आरोप लगाया

Bhasha | Published On: May 04, 2017 03:26 PM IST | Updated On: May 04, 2017 03:26 PM IST

बीजेपी नेताओं के मंदिर में पूजा करने से उठा विवाद

बिहार के किशनगंज जिले में दो केंद्रीय मंत्रियों और एक वरिष्ठ बीजेपी नेता ने सरकारी जमीन पर मस्जिद के नजदीक बने एक मंदिर में पूजा की. इसके बाद उस मंदिर को स्थानीय लोगों के लिए खोलने की मांग उठने लगी है. इस मंदिर का पूरी तरह निर्माण नहीं हुआ है और यह मंदिर बंद रहता है.

मुस्लिम बहुल सीमाई जिले किशनगंज में बुधवार को केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और रामकृपाल यादव ने बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार के साथ काली माता मंदिर जा कर पूजा अर्चना की. इस पर आरजेडी और जेडीयू नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

बीजेपी नेता बिहार प्रदेश बीजेपी कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के लिए आए थे.

मंत्रियों के भ्रमण से उत्साहित हो कर बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मंदिर के आसपास एकत्र हो गए और उन्होंने श्रद्धालुओं के लिए स्थाई तौर पर मंदिर खोले जाने की मांग की.

किशनगंज के सर्किट हाउस के निकट कालू चौक के पास स्थित इस काली माता मंदिर को पिछले साल अक्टूबर महीने में अनुमंडल अधिकारी (एसडीओ) मोहम्मद शफीक अहमद द्वारा ध्वस्त करने का निर्देश दिए जाने के बाद से विवाद गहरा गया था.

सिंह का आरोप है कि एसडीओ के हस्तक्षेप के बाद मंदिर का निर्माण रोक दिया गया और लोगों को मंदिर आने से मना कर दिया गया.

मंदिर के पास सरकारी जमीन पर एक मस्जिद भी है

पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार में एमएसएमई राज्य मंत्री गिरीराज सिंह ने अनुमंडल अधिकारी को तुरंत हटाए जाने और मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए फिर से तुरंत खोले जाने की मांग की.

बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार ने मंदिर में श्रद्धालुओं के जाने पर रोक लगाए जाने और प्रदेश की महागठबंधन सरकार पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया.

बीजेपी नेताओं के उस मंदिर में जाने से बिहार में राजनीति गरमा गई है. उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर प्रदेश के सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने के प्रयास करने का आरोप लगाया.

आरजेडी नेता तथा बिहार के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री अब्दुल गफूर ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए आरोप लगाया कि प्रदेश में बीजेपी के पास कोई सकारात्मक मुद्दा नहीं बचा है इसलिए वे किशनगंज के उक्त विवादित मंदिर का मुद्दा उठाकर सांप्रदायिक तनाव को हवा देने की कोशिश कर रहे हैं.

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने बीजेपी पर महागठबंधन सरकार के कार्यकाल के दौरान प्रदेश में अमन-चैन को खराब करने के लिए नियमित प्रयास करने का आरोप लगाया और गिरीराज पर लोगों को भड़काने के लिए कार्रवाई किए जाने मांग की.

बिहार विधान सभा में उपनेता और जेडीयू के वरिष्ठ नेता श्याम रजक ने गिरीराज पर बरसते हुए उनपर कानून के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया और प्रधानमंत्री से उन्हें मंत्रिमंडल से हटाए जाने की मांग की.

उल्लेखनीय है कि बीजेपी ने पश्चिम बंगाल की सीमा पर स्थित मुस्लिम बहुल किशनगंज जिले में अपनी राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक का आयोजन किया है.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi

लाइव

Match 6: India 84/2Dinesh Karthik on strike