S M L

मेघालय के एक और बीजेपी नेता ने छोड़ी पार्टी, बीफ बैन को बताया अपमान

उत्तरी पूर्व भारत में बीफ बैन को लेकर है गहरी असंतुष्टि.

FP Staff | Published On: Jun 06, 2017 12:23 PM IST | Updated On: Jun 06, 2017 12:53 PM IST

0
मेघालय के एक और बीजेपी नेता ने छोड़ी पार्टी, बीफ बैन को बताया अपमान

बीजेपी के बीफ बैन अभियान को पूर्वोत्तर राज्यों में मेघालय के उत्तरी गारो हिल्स के बीजेपी जिला अध्यक्ष बाचू मरक ने सोमवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने पार्टी पर बीफ बैन को गारो संस्कृति पर हमला बताते हुए बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष शिबुन लिंगदोह को अपना इस्तीफा सौंप दिया.

मरक के इस्तीफे से 4 दिन पहले पश्चिमी गारो हिल्स के जिला अध्यक्ष बर्नार्ड मार्क ने भी बीफ बैन के मुद्दे पर ही पार्टी से इस्तीफा दिया था.

मरक ने अपना इस्तीफा देने के बाद कहा कि 'मैं गारो समुदाय की भावनाओं से समझौता नहीं कर सकता. एक गारो होने के नाते ये मेरी जिम्मेदारी है कि मैं अपने समुदाय के हितों की रक्षा करूं. बीफ सेवन हमारे संस्कृति और परंपरा का हिस्सा रहे हैं. बीजेपी की ये सांप्रदायिक विचारधारा स्वीकार नहीं है.'

मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर मरक ने अपने फेसबुक अकाउंट पर बिची (शराब) और बीफ पार्टी के आयोजन की घोषणा की थी, जिसपर उन्हें पार्टी आलाकमान की तरफ से आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था.  बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नलिन कोहली ने बाचू के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी थी.

अब पार्टी से पहले इस्तीफा देने वाले बर्नार्ड मार्क 10 जून को बीफ पार्टी का आयोजन करने वाले हैं. उन्होंने कहा कि मैं तूरा (स्थानीय जगह) में बीजेपी के ऐसे कदम के खिलाफ अपनी आवाज उठाने के लिए मैं बीफ पार्टी का आयोजन कर रहा हूं.

(फोटो बाचू मरक के फेसबुक वॉल से)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi